Cyber attack: दिग्गज फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डीज, जो कोरोना वायरस की वैक्सीन स्पूतनिक के ट्रायल का काम कर रही है उसने दुनिया के अपने सभी कारखानों का काम फिलहाल रोक दिया है. कंपनी पर साइबर अटैक और कई सर्वर के डेटा बाहरी लोगों तक पहुंचने की आशंका को देखते हुए कंपनी ने अपना काम रोक दिया है. कंपनी का कहना है कि सब ठीक अगले 24 घंटे में कामकाज शुरू हो सकता है. Also Read - दिल्ली वालों को बड़ी राहत: कोरोना टेस्ट के लिए नहीं देने होंगे रुपए, गृह मंत्रालय ने लिया फैसला

बता दें कि कुछ दिनों पहले ही डॉ. रेड्डीज को भारत सरकार के ड्रग कंट्रोलर जनरल से कोविड-19 के लिए रूसी टीका स्पूतनिक-5 के भारत में दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल की इजाजत मिली है. Also Read - कोरोना वायरस: दिल्ली से यूपी आने वाले लोगों का होगा टेस्ट, संक्रमण रोकने को योगी सरकार का फैसला

कंपनी के सीआईओ मुकेश राठी ने कहा, ‘हम 24 घंटे के भीतर सभी सेवाओं के शुरू हो जाने का अनुमान कर रहे हैं. हमें इस घटना के कारण हमारे परिचालन पर कोई उल्लेखनीय असर होने की आशंका नहीं है.’ Also Read - Ahmedabad Curfew: अहमदाबाद में कोरोना से बिगड़े हालात, रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक का कर्फ्यू लागू, जानें डिटेल

कंपनी ने स्टॉक एक्सचेंजों को दी जानकारी में बताया है कि साइबर हमले को देखते हुए उसने अपने सभी डेटा सेंटर को आइसोलेट कर दिया है. Dr Reddy’s के भारत, रूस, ब्रिटेन, अमेरिका और ब्राजील में कारखाने हैं. खबर के मुताबिक यह साइबर हमला भारतीय समयानुसार कल यानी बुधवार की रात करीब 2.30 बजे हुआ.

बता दें कि डॉ. रेड्डीज और आरडीआईएफ (RDIF) को भारत में स्पुतनिक V वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल करने की अनुमति कुछ दिनों पहले ही मिली है.