बेंगलुरु: रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन का एक ड्रोन मंगलवार को चित्रदुर्ग जिले में परीक्षण के दौरान एक खेत में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. इसका एक वीडियो वायरल हुआ है. ड्रोन के दुर्घटनाग्रस्त होने से तेज आवाज हुई, जिससे जोडी चिल्लेनहैली गांव में काफी डर फैल गया. जल्द ही, बड़ी संख्या में लोग घटनास्थल पर पहुंच गए. Also Read - कर्नाटक में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 40 हजार पार, 73 और मरीजों की मौत

दअसल, रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (DRDO) का एक TAPAS मानव रहित हवाई वाहन (Unmanned Aerial Vehicle) परीक्षण उड़ान के दौरान चित्रदुर्ग परीक्षण रेंज से 17 किमी दूर दुर्घटनाग्रस्त हो गया. यूएवी अपनी प्रारंभिक विकास उड़ान में से दुर्घटनाग्रस्त होने के दौरान एरियल टेस्‍ट के परीक्षण से गुजर रहा था. Also Read - कर्नाटक: बेंगलुरु के बाद इन दो जिलों में भी लगा लॉकडाउन, विपक्षी दलों का पूरे राज्य में लॉकडाउन का आग्रह

चित्रदुर्ग के पुलिस अधीक्षक अरुण के. ने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि यूएवी आज सुबह एक खेत में दुर्घटनाग्रस्त हो गया, लेकिन उसमें कोई घायल नहीं हुआ.

टूटे यूएवी के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए. राज्य सरकार के अधिकारियों के अनुसार, जब ‘रुस्तम-2’ नामक हवाई वाहन का परीक्षण चल रहा था, तब यह हादसा हुआ.