Corona Virus Vaccine: कोरोना का टीका लेने के बाद अगर शराब पी तो सब बेकार हो जाएगा. शराब पीने की आदत कोरोना की वैक्सीन को बेअसर कर सकता है. टीका लेने के दो महीने के बाद तक शराब से परहेज करना होगा. ये सलाह रूस के उपप्रधानमंत्री ततियाना गोलिकोवा ने जारी किया है. बता दें कि रूस में हाल ही में लोगों को स्पूतनिक-वी टीका दिया जा रहा है. रूस के उपप्रधानमंत्री ने कहा कि मेरे सलाह का मकसद लोगों की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाए रखना है.Also Read - Home Isolation Rules: लखनऊ आने वाले यात्रियों को 10 दिन के लिए आइसोलेशन में रहना होगा, गाइडलाइन जारी

कहा जा रहा है कि टीका लेने के दो महीने बाद वैक्सीन काम करेगी. इस दौरान टीका लेने वालों को सावधानी बरतनी होगी. रूसी स्वास्थ्य मंत्रालय के गमालिया इंस्टीच्यूट ऑफ एपिडेमोलॉजी और माइक्रोबायोलॉजी के प्रमुख एलेक्जेंडर गिन्ट्सबर्ग के मुताबिक टीका लेने के बाद अगर आप शराब का सेवन करेंगे तो वैक्सीन का प्रभाव कम हो सकता है. कंज्यूमर सेफ्टी वॉचडॉग की प्रमुख अन्ना पोपोवा ने कहा है कि कोविड-19 स्ट्रेन को खत्म करने के लिए शराब बिल्कुल ना पीएं. Also Read - Coronavirus: ओडिशा के एक सरकारी स्कूल की 25 छात्राएं कोरोना पॉजिटिव, हड़कंप

भारत में बड़े पैमाने पर कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारी हो रही  Also Read - Omicron: इन देशों के यात्रियों को RTPCR टेस्ट के बिना गुजरात में नहीं मिलेगी एंट्री, राज्य सरकार ने किया अनिवार्य

भारत में बड़े पैमाने पर कोरोना वायरस के टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार विस्तृत योजना तैयार कर रही है. बताया जा रहा है कि एक टीकाकरण केंद्र पर 5 लोगों को तैनात किया जाएगा. साथ ही वैक्सीन की पहली डोज मिलने के बाद किसी भी तरह के विपरीत प्रभाव की आशंका के मद्देनजर एक कमरे को तैयार किया जाएगा.

अनुमान के मुताबिक प्रत्येक टीकाकरण केंद्र पर एक दिन में लगभग 100 लोगों को वैक्सीन दी जा सकेगी. वैक्सीन शुरू होने के कुछ समय बाद इसमें तेजी लाने के लिए सरकार कम्युनटी हॉल और टेंट लगाने की व्यवस्था भी करेगी. हर साइट पर सामान्य टीकाकरण केंद्रों से ज्यादा जगह की जरूरत होगी. हर टीकाकरण केंद्र पर एक गार्ड समेत 5 लोगों की तैनाती होगी। और 3 कमरे वेटिंग, वैक्सीनेशन और ऑब्जर्वेशन के लिए होंगे।