नई दिल्‍ली: बीते शनिवार को दो आतंकवादियों को ले जाते समय जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग से गिरफ्तार किए गए डिप्‍टी एसपी दविंदर सिंह को लेकर कुछ मीडिया की आई खबरों में बताया गया है कि केंद्रीय गृहमंत्री द्वारा उसे कोई शौर्य पदक (gallantry medal) सम्‍मानित किया गया था. इसको लेकर जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस ने साफ किया है कि डिप्‍टी एसपी दविंदर सिंह को केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा किसी भी शौर्य पदक (gallantry medal) या उत्‍कृष्‍टता अवॉर्ड से सम्‍मानित नहीं किया गया है. उसे केवल जम्‍मू-कश्‍मीर राज्‍य में उसकी सेवाओं के लिए 2018 के स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर शौर्य पदक से सम्‍मानित किया गया था.

जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस ने कहा कि डिप्‍टी एसपी दविंदर सिंह पुलवामा में 25-26 अगस्‍त 2017 को जब वह वहां पोस्‍टेड थे, पुलिस लाइन में हुए आतंकी फिदायीन हमले के मुकाबले के लिए शौर्य पदक से सम्‍मानित किया गया था.

आतंकवादियों को कश्मीर घाटी ले जा रहा डिप्‍टी एसपी हुआ था गिरफ्तार
जम्मू-कश्मीर पुलिस के डिप्‍टी एसपी को दो आतंकवादियों को अपनी कार में कश्मीर घाटी ले जाने के आरोप में उनके साथ गिरफ्तार क‍िया गया था. कश्मीर पुलिस के महानिरीक्षक (आईजी) विजय कुमार ने रविवार को श्रीनगर में यह जानकारी दी थी.

जम्मू कश्मीर पुलिस ने गिरफ्तार डीएसपी के आवास पर फिर से की छानबीन
दो आतंकवादियों ले जाते वक्‍त गिरफ्तार किए गए पुलिस उपाधीक्षक पी दविंदर सिंह के आवास पर पुलिस ने सोमवार को फिर से छानबीन की. पूछताछ के दौरान सिंह द्वारा कुछ खुलासे के बाद उनके इंदिरा नगर आवास पर छापेमारी की गए. सिंह के आवास से किस तरह की चीजें बरामद की गई हैं, इस बारे में अधिकारी ने बताने से मना कर दिया.

दो एके 47 राइफलें डीएसपी के आवास से मिलीं
अत्यंत सुरक्षा वाले श्रीनगर हवाई अड्डे पर तैनात सिंह को हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी नवीद बाबू और अल्ताफ के साथ शनिवार को तब गिरफ्तार किया गया था, जब वह कार से उन्हें श्रीनगर से दक्षिण कश्मीर ले जा रहे थे. दक्षिण कश्मीर के उप महानिरीक्षक अतुल गोयल के नेतृत्व वाली टीम ने उनका पीछा करके उनके पास से दो एके राइफल जब्त की थी. सिंह के आवास की तलाशी में दो पिस्तौल और एक एके राइफल जब्त हुई थी. (इनपुट एजेंसी)