नई दिल्लीः कल मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में पूरे देश में 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की. पीएम मोदी ने कहा कि भारत सरकार यह कठिन निर्णय जनता की भलाई के लिए ही उठा रही ताकि स्थिति और भयावह न हो. प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य की जनता से कहा कि वे 21 दिन के लॉकडाउन से परेशान न हो और सभी लोगों को रोज मर्रा की जरूरत के सामान की आपूर्ति की जाएगी. Also Read - अमरिंदर बोले- कोरोना के खिलाफ 15 हजार करोड़ रुपये का पैकेज नाकाफी, भयावह हो सकती है स्थिति

दरअसल सीएम योगी को यह बयान इसलिए देना पड़ा क्योंकि प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद पूरे देश में लोग आवश्यक सामान को लेने के लिए बाजार की तरफ निकल पड़े जिससे दुकानों में काफी भीड़ जमा होने लगी थी. उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को घबराने की जरूरत नहीं सरकार लोगों के घरों में सामान पहुंचाएगी और इसके पूरे इंतजाम कर लिए गए हैं. उन्होंने कहा कि प्रदेश की 23 करोड़ की जनता की हिफाजत और उनके स्वास्थ्य की जिम्मेदारी हमारी है. Also Read - Covid-19: यूपी सरकार का बड़ा कदम, 4.81 लाख श्रमिकों के भरण-पोषण के लिए जारी किये एक-एक हजार रुपये

प्रदेश के मुखिया ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान यूपी पुलिस के जवान लोगों के घर घर जाकर दूध, सब्जी और दूसरी जरूरी सामान को पहुंचाएंगे. उन्होंने कहा कि मैं नागरिकों से अपील करता हूं कि इस समय अपने घरों से बाहर न निकलें. उन्होंने बताया कि इस काम के लिए हमने 10 हजार वाहनो की तैनाती की है.

सीएम योगी ने ट्वीट करते हुए जानकारी दिया कि प्रदेश की सरकार हर एक परिवार को आवश्यक वस्तुएं पहुंचाने के लिए हर एक मुमकिन व्यवस्था करेगी. उन्होंने कहा कि इस बारें में जनपदीय अधिकारियों को भी सूचित किया जा चुका है और साथ ही यह भी कहा गया है कि वह यह सुनिश्चित करें कि नागरिक अपने अपने घरों में ही रहें और इस खतरनाक वैश्विक बिमारी से लड़ने में अपना सहयोग दें.