मुंबई: इंडिगो के एयरबस A-320 नियो विमान के एक इंजन के उड़ान के दौरान ‘तेज धमाके’ के साथ फेल हो जाने के एक ताजा मामले को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने गंभीरता से लिया है. प्रैट एंड व्हिट्नी इंजन वाले विमान में यह हादसा तीन जनवरी को चेन्नई से कोलकाता की उड़ान के दौरान हुआ था हालांकि इस हादसे में किसी के घायल होने की कोई सूचना नहीं है. रिपोर्ट के मुताबिक़ धमाके के साथ एक इंजन बंद होने के तुरंत बाद इंडिगो के इस विमान को आधे रास्ते से ही वापस चेन्नई लौटाया गया और तब से उस विमान को परिचालन से बाहर रखा गया है.

यात्री कृपया ध्यान दें…टाइम से 20 मिनट पहले नहीं पहुंचे तो छूट जाएगी ट्रेन

तेज धमाके के साथ इंजन बंद
आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक हवा में ही विमान के इंजन में ‘तेज धमाका’ हुआ और उसने काम करना बंद कर दिया. वहीं इंडिगो के प्रवक्ता ने बयान जारी कर कहा है कि उसके चालक दल के सदस्यों ने ‘तकनीकी सतर्कता’ बरतते हुए उड़ान को वापस चेन्नई ले जाने का फैसला किया. नागर विमानन सचिव आर एन चौबे ने मीडिया के एक सवाल के जवाब में कहा, मंत्रालय ने (घटना को) गंभीरता से लिया है और हम मंगलवार को इसकी समीक्षा करेंगे. उनसे पूछा गया था कि क्या मंत्रालय विमान के विनिर्माता एयरबस और अमेरिका की इंजन कंपनी प्रैट एंट व्हिट्नी को सभी तरह की समस्याएं ठीक होने तक विमानों की डिलिवरी रोकने को कहेगा.

सबरीमाला विवाद पर UN ने कहा- महिलाओं के समान अधिकार सभी धर्मों के लोगों पर लागू

चेन्नई-कोलकाता की उड़ान पर था विमान
रिपोर्ट के मुताबिक़ इंडिगो की तीन जनवरी की चेन्नई-कोलकाता की उड़ान भरने के दौरान विमान में लगे पीएंडडब्ल्यू के एक इंजन ने धमाके की आवाज के साथ काम करना बंद कर दिया था. उसमें से चिंगारी और धुंआ भी निकला था तथा विमान हिलने लगा था जिससे उसमे सवार यात्रियों में दहशत हो गई थी. भारत में दो निजी एयरलाइनें इंडिगो और गो एयर पीएंडडब्ल्यू के इंजन वाले A- 320 एयरबस विमानों का परिचालन करती है. एयर इंडिया और विस्तारा के बेड़े में भी ये नए एक गली वाले विमान हैं पर इनके विमानों में सीएफएम इंजन लगे हैं. (इनपुट भाषा)