Earthquake in Delhi-NCR: लोग कोरोना वायरस (Corona Virus) से जूझ रहे हैं. लॉकडाउन (Lockdown) के चलते घरों में कैद हैं. पहले ही कोरोना के चलते लोग डरे-सहमे हैं. इसी बीच बार-बार भूकंप लोगों के लिए मुसीबत बना हुआ है. खासकर दिल्ली और आसपास के लोगों के लिए बार-बार आ रहा भूकंप दहशत बढ़ा रहा है. आज आए भूकंप के बाद दिल्ली के लोग घरों के लोग बाहर निकल आए. झटके ऐसे थे कि लोग बुरी तरह डर गए. Also Read - रिसर्च में बड़ा दावा: 6 फीट की दूरी नहीं पर्याप्त, कोरोना से बचना है तो इतनी दूरी करें मेंटेन

इस बार भूकंप के केंद्र दिल्ली-यूपी बॉर्डर ही बताया जा रहा है. भूकंप की तीव्रता 3. 5 बताई जा रही है. 45 दिनों से ज्यादा लॉकडाउन झेल रहे दिल्ली-एनसीआर के लोगों का भूकंप से तीन बार सामना हो चुका है. इससे पहले दो बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं. लॉकडाउन के बीच अप्रैल में दो बार धरती हिली थी और लोग घरों से बाहर आने को मजबूर हो गए थे. Also Read - बीसीसीआई को भरोसा, भारत से टी20 विश्व कप की मेजबानी छीनकर 'आत्महत्या' नहीं करेगी ICC

आज सुबह से ही मौसम खराब था. घने बादलों से अँधेरा छाया था. इस बीच धूल भरी आंधी के बाद बारिश भी हुई. तेज बिजली कड़की. ये थम भी नहीं पाया कि भूकंप के झटकों ने लोगों को हिला दिया. डरे सहमे लोगों ने जैसे ही महसूस किया अपने-अपने घरों से बाहर निकल आए. Also Read - लॉकडॉउन में दिल्‍ली के एक किसान की दरियादिली, प्‍लेन से 10 प्रवासी श्रमिकों को भेज रहा बिहार

नोएडा में रहने वाले अर्जुन भारद्वाज कहते हैं कि लोगों के लिए ये दोहरी मुश्किल है. पूरे दिल्ली एनसीआर में भूकंप (Earthquake During Lockdown) ने लोगों में दहशत भर दी. लोगों और अपनी और अपने परिवार की चिंता में भूकंप कई गुना इज़ाफ़ा कर रहा है.