आईजोल: मिजोरम में म्यांमार से लगे कुछ इलाकों में गुरुवार रात रिक्टर पैमाने पर 5.0 तीव्रता का एक मध्यम दर्जे का भूकंप दर्ज किया गया. फिलहाल किसी तरह के जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. Also Read - मैक्सिको में भीषण भूकंप से भय का माहौल, 7.5 की तीव्रता, 4 लोगों की मौत

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी के अनुसार, भूकंप म्यांमार से लगे पूर्वी मिजोरम के चंफाई इलाके में रात 7.29 बजे आया. भूकंप कुछ सेकेंड में समाप्त हो गया और इसकी गहराई 80 किलोमीटर थी. भूकंप विज्ञानी भारत के पहाड़ी पूर्वोत्तर क्षेत्र को दुनिया में छठी प्रमुख भूकंप संभावित पट्टी मानते हैं. Also Read - भूकंप ने मिजोरम को हिलाया, सामने आईं भयावह फोटो, PM मोदी ने दिया मदद का भरोसा

पूर्वोत्तर में इतिहास के कुछ सबसे बड़े भूकंप आए हैं. वर्ष 1897 8.2 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसका केंद्र शिलांग था, जबकि 1950 में असम में रिक्टर पैमाने पर 8.7 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसके परिणामस्वरूप ब्रह्मपुत्र नदी ने अपना रास्ता बदल दिया था. Also Read - तीन दिन के अंदर दूसरी बार मिजोरम में आया भूकंप, सुबह चार बजे महसूस हुए झटके, रिएक्टर स्केल पर 5.3 की रही तीव्रता

बता दें कि पिछले कुछ समय में देश के अलग हिस्सों में लगातार भूकंप के झटके महसूस किये जा रहे हैं. दिल्ली एनसीआर, कश्मीर. गुजरात, जैसे राज्यों में कई बार भूकंप के झटके लग चुके हैं. इससे लोगों में दहशत है.