नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की हिरासत में पूछताछ की अवधि चार दिन बढ़ा दी. रतुल पुरी बैंक कर्ज फर्जीवाड़ा से जुड़े धन शोधन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में हैं. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 354 करोड़ रुपए के बैंक ऋण धोखाधड़ी मामले में कारोबारी रतुल पुरी को गिरफ्तार किया था.

ईडी ने पुरी की आठ और दिन की हिरासत मांगते हुए कहा था कि धन के प्रवाह का अभी तक पता नहीं चला है और अपराध के बारे में आगे और पड़ताल करने की जरूरत है. विशेष न्यायाधीश संजय गर्ग ने पुरी से हिरासत में पूछताछ को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की मांग को मान लिया. प्रवर्तन निदेशालय ने बैंक कर्ज से जुड़े फर्जीवाड़ा के संबंध में धन शोधन के मामले में 20 अगस्त को पुरी को गिरफ्तार किया था.

AJL लैंड अलॉटमेंट केस: ED ने कांग्रेस के इन सीनियर नेताओं के खिलाफ दायर आरोप पत्र

वीवीआईपी हेलिकॉप्टर (अगस्ता वेस्टलैंड) से जुड़े धन शोधन के एक अन्य मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने पिछले मंगलवार को उनकी अग्रिम जमानत याचिका यह कहते हुए खारिज कर दी थी कि प्रभावी जांच के लिए हिरासत में लेकर पूछताछ करनी जरूरी है.

INX मीडिया केस: जज ने कहा- चिदंबरम की और पुलिस हिरासत न्यायोचित, आधा घंटा मिल सकेंगे परिवारवाले

बैंक फर्जीवाड़ा संबंधी मामले में धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत पिछले सोमवार की रात पुरी को तब गिरफ्तार किया गया था, जब वह हेलिकॉप्टर घोटाला मामले में केंद्रीय जांच एजेंसी के सामने पेश हुए थे.

मनमोहन सिंह की SPG सुरक्षा हटी, अब पीएम मोदी सहित सिर्फ 4 VVIP को ऐसी सिक्योरिटी

प्रवर्तन निदेशालय 3600 करोड़ रुपए के वीवीआईपी हेलिकॉप्टर स्‍कैम केस में भी ‘हिंस्तान पावर प्रोजेक्टस प्राइवेट (एचपीपी) लिमिटेड’के अध्यक्ष पुरी के खिलाफ जांच कर रहा है. एक स्थानीय कोर्ट ने हाल ही में उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था. प्रवर्तन निदेशालय ने दलील दी थी कि पुरी सबूतों से छेड़छाड़ की कोशिश कर सकते हैं और गवाहों को फुसला सकते हैं, क्योंकि वह पहले ऐसा कर चुके हैं.

राजीव हत्‍याकांड के बाद SPG सुरक्षा में हुए थे बड़े बदलाव, इन पूर्व PM की भी हटी थी ये सिक्‍योरिटी

दिल्ली हाईकोर्ट ने 14 अगस्त को हालांकि पुरी को 20 अगस्त तक गिरफ्तारी से अंतरिम संरक्षण प्रदान किया था. सीबीआई ने 17 अगस्त को एक मामला दर्ज किया था और पुरी, उनके पिता एवं ‘मोजर बियर’ कंपनी के प्रमोटर दीपक पुरी, मां नीता पुरी और अन्य के ठिकानों पर छापे मारे थे.

चिदंबरम को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने अपील पर सुनवाई से किया इनकार