पटना: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की बड़ी बेटी मीसा और दामाद शैलेश को बड़ा झटका लगा है.सूत्रों के हवाले से ख़बर है कि अब प्रवर्तन निदेशालय मीसा और उनके पति शैलेश के दिल्ली के बिजवासन स्थित फार्म हाउस को जब्त करने की तैयारी में है. ये कार्रवाई मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत होगी. Also Read - बिहार: चुनाव से पहले फील्डिंग शुरू की राजनीतिक पार्टियां, पोस्टर के जरिए लालू को बताया ठग्स ऑफ बिहार

बताया जा रहा है कि ईडी लालू की बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेश के जवाबों से संतुष्ट नहीं है. ईडी मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत अब पालम विहार का फॉर्महाउस सीज करने की तैयारी में है. ईडी से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि 26 पालम फार्म हाऊस मीसा और शैलेश ने शैल कंपनियों से कमाए रुपयों से खरीदा था. Also Read - लालू का BJP पर निशाना, कहा- आरक्षण खत्म करने की बात करने वाले जातिवाद खत्म क्यों नहीं करते?

बताया जा रहा है कि अभी मीसा और शैलेश की मुश्किलें और बढ़ेंगी. इसके साथ ही यह भी खबर है कि ईडी लालू के दामाद शैलेश से एक बार फिर पूछताछ कर सकती है. आपको बता दें कि दोनों पर फर्जी कंपनियों के पैसे से फॉर्महाउस खरीदने का आरोप है. आरोप है कि चार शेल कंपनियों के जरिए एक करोड़ बीस लाख रुपया आया था. इसी पैसे से फॉर्म हाउस खरीदा गया था. Also Read - INX media case: ईडी ने कार्ति चिदंबरम से फिर की पूछताछ, आरोपियों के बयानों से सामना कराया

आपको बता दें कि ईडी ने मीसा और शैलेश के ठिकानों पर 8 जुलाई को छापेमारी की थी. ईडी इस मामले में मीसा और उनके पति दोनों से पूछताछ भी कर चुकी है. इस मामले में ईडी मीसा और शैलेश के सीए राजेश अग्रवाल के खिलाफ आरोप पत्र भी दायर कर चुका है. राजेश अग्रवाल फिलहाल तिहाड़ जेल में हैं.