नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस के डीसीपी राजेश देव के खिलाफ कड़ा संज्ञान लेते हुए चुनाव आयोग ने बुधवार को कहा कि उनका बयान ‘‘पूरी तरह अवांछित’’ था. आयोग ने उन्हें चुनावी कार्य से रोक दिया है. गौरतलब है कि देव ने मीडिया के साथ जांच का ब्योरा साझा किया था जिसमें शाहीन बाग के शूटर का संबंध आम आदमी पार्टी से बताया गया था.

 

दिल्ली के पुलिस आयुक्त को भेजे पत्र में चुनाव आयोग ने कहा कि देव का यह कदम पूरी तरह से अवांछित था और उनके इस व्यवहार से ‘‘स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराने पर असर पड़ेगा. देव ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा था कि शाहीन बाग में शनिवार को गोलीबारी करने वाला कपिल बैसला आप का सदस्य है.

आप ने पुलिस अधिकारी के खिलाफ चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया
इसके बाद आम आदमी पार्टी ने पुलिस अधिकारी के खिलाफ चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया. आयोग ने दिल्ली पुलिस को बृहस्पतिवार को शाम छह बजे तक अनुपालन रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है.