मथुराः उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में बीती रात जमुनापार थाना क्षेत्र में अपनी बाइक से कमरे पर लौट रहे बिजली विभाग के 35 वर्षीय अभियंता की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस घटना से कर्मचारियों में आक्रोश फैल गया और उन्होंने न केवल काम बंद कर हड़ताल कर दी, बल्कि जब उनके व प्रशासनिक स्तर के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे तो उनका घेराव कर विरोध में जमकर नारेबाजी भी की.

इस मामले में पुलिस ने अज्ञात अपराधियों के खिलाफ हत्या से संबंधित कानून की धाराओं के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के अंतर्गत भी कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है. पुलिस ने हत्यारों का पता लगाने के लिए दस टीमें गठित की है और कहा हे कि अपराधियों को जल्दी ही सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा.


पुलिस के अनुसार यह वारदात गुरुवार की रात साढ़े नौ से दस बजे के मध्य घटित हुई, जब पानीगांव सब-स्टेशन पर तैनात अवर अभियंता प्रदीप कुमार पुत्र हाकिम सिंह निवासी सेवला जाट, कागारौल, जिला आगरा काम समाप्त कर कर रसखान नगरी स्थित अपने कमरे पर लौट रहे थे. तभी रास्ते में अज्ञात हमलावरों ने उन पर दो गोलियां बरसाकर उनकी जान ले ली.

लोगों ने उनका शव रास्ते में पड़ा होने तथा पास में बाइक खड़ी होने की सूचना पुलिस को दी. तब उनके शव का पंचनामा तैयार कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया.