बेंगलुरू: कर्नाटक में बेंगलुरू के पास अपने कैंप के नजदीक ड्यूटी कर रहे सीआरपीएफ के दो जवानों को एक जंगली हाथी ने कुचल कर मार दिया.Also Read - Jammu & Kashmir: बारामूला में ग्रेनेड अटैक में दो CRPF, एक पुलिसकर्मी और एक नागरिक घायल

कग्गालिपुरा पुलिस के इंस्पेक्टर कृष्ण कुमार ने यहां पीटीआई से कहा कि घटना रविवार सुबह तब हुई जब हाथी यहां पास में सावनदुर्गा जंगल से भटक कर तारलू गांव में सीआरपीएफ शिविर पहुंच गया और दोनों पर हमला कर दिया. Also Read - Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ में पिछले तीन वर्षों में हाथियों के हमले में 204 लोगों की मौत

वन संरक्षक जे मुमताज ने कहा कि सीआरपीएफ के सहायक उप निरीक्षक दक्षिणा मूर्ति उम्र (52)और कांस्टेबल पी लमानी उम्र(35) को कुचलने के बाद हाथी जंगल में चला गया. मूर्ति तमिलनाडु के रहने वाले थे, जबकि लमानी कर्नाटक के हवेरी जिले से थे. Also Read - Chhattisgarh में नक्‍सलियों के कब्‍जे में CRPF जवान, मां और पत्‍नी ने सरकार से रिहाई के लिए लगाई गुहार

पोस्ट पर तैनात जवानों ने शोरगुल सुनकर पहले तो समझा कि जंगली सुअरों ने हमला किया है, लेकिन बाद में उन्हें समझ आया कि यह तो जंगली हाथी है. कांस्टेबल पुट्टप्पा औरलमानी ने भागने का प्रयास किया लेकिन हाथी जल्द ही उन तक पहुंच गया. सूंड से उठाकर पटकने के बाद हाथी ने दोनों के शरीर को पैरों से रौंद दिया और फिर चिंघाड़ता हुआ कैंप की ओर पहुंच गया. उसने एक बाइक को उठा कर फेंक दिया.

एक पेड़ को ध्वस्त कर दिया और पूरे कैंप को रौंद डाला. बाद में जंगल की ओर भाग निकला. मूर्ति की मौके पर ही मौत हो गई जबकि पुट्टप्पा ने अस्पताल पहुंचने से पहले दम तोड़ दिया.