देहरादून: देहरादून से दिल्ली के बीच सहारनपुर और बागपत होते हुए एक एलिवेटिड एक्सप्रेस वे बनाया जायेगा जिसके बनने के बाद दोनों स्थानों के बीच की दूरी केवल ढाई घंटे में तय की जा सकेगी. भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के अध्यक्ष एसएस संधू ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को आज यहां एक मुलाकात के दौरान यह जानकारी दी कि देहरादून से दिल्ली के बीच इस एलिवेटेड एक्सप्रेस वे को केंद्र सरकार से सैद्धांतिक स्वीकृति मिल चुकी है. Also Read - कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए नितिन गडकरी का ऐलान, कहा- राष्ट्रीय राजमार्गों पर नहीं लिया जाएगा टोल 

यहां जारी एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री रावत ने एलिवेटेड एक्सप्रेस वे को सैद्धांतिक स्वीकृति मिलने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस राष्ट्रीय राजमार्ग के बन जाने से राज्य के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और यह राज्य के आर्थिक विकास में मील का पत्थर साबित होगा. राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण में एनएचएआई को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने का आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस वे के बन जाने से दिल्ली से देहरादून के बीच की दूरी लगभग 180 किलोमीटर रह जाएगी. संधू ने बताया कि शीघ्र ही इस नए राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा. Also Read - अब से देश के जवानों को मिलेगा हर टोल प्लाजा पर सम्मान, NHAI ने जारी किया नया सर्कुलर

संधू ने बताया कि नए राष्ट्रीय राजमार्ग के बन जाने के बाद दिल्ली से देहरादून की दूरी मात्र ढाई घंटे में पूर्ण की जा सकेगी.उन्होंने बताया कि इस राजमार्ग में एलिवेटेड रोड और मोहंड के पास एक नई सुरंग प्रस्तावित है. संधू ने मुख्यमंत्री को बताया कि इस राष्ट्रीय राजमार्ग का कुछ भाग उत्तर प्रदेश के वन और वन्यजीव क्षेत्र से होकर गुजरता है इसलिये उत्तर प्रदेश सरकार से इस दिशा में जल्द मंजूरी देने का अनुरोध करने का भी आग्रह किया ताकि राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण का कार्य शुरू किया जा सके. Also Read - FASTag नियमों में इन 65 टोल प्लाजा को हाई कैश ट्रांसजेक्शन में मिली छूट, देखें पूरी लिस्ट