नई दिल्ली: जम्मू एवं कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में हिमस्खलन की चपेट में आकर सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के एक इंजीनियर की मौत हो गई, जबकि आठ अन्य के लापता होने की खबर है. पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी. तंगधार क्षेत्र में शुक्रवार को साधना टॉप पर एक कैब हिमस्खलन की चपेट में आ गया. Also Read - DDC Elections in J&K: डीडीसी के दूसरे चरण के लिए मतदान प्रारंभ, मैदान में 321 उम्मीदवार

बचाव टीमों ने वाहन से एक बच्चे को सुरक्षित निकाला, जबकि छह अन्य यात्री लापता हैं. एक पुलिस अधिकारी ने कहा जब हिमस्खलन हुआ उस समय इलाके में बीआरओ के तीन कर्मचारी भी मौजूद थे. अधिकारी ने कहा, इंजीनियर मंगला प्रसाद की मौत हो गई.उनके शव को बरामद कर लिया गया है, जबकि अन्य आठ लापता लोगों का पता लगाने के लिए बचाव अभियान जारी है. Also Read - School College Reopening latest News: जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन, 31 दिसंबर तक बंद रहेंग स्कूल-कॉलेज

बता दें कि इससे पहले कश्मीर घाटी में भारी हिमपात के बाद गुरेज और नौगाम सेक्टर में नियंत्रण रेखा से लापता हुए 5 सैनिकों में से 3 के शव को बरामद किया गया था. रक्षा सूत्रों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि खोज एवं बचाव दल ने 2 जवानों के शव गुरेज सेक्टर में बरामद किए जबकि 1 जवान का शव नौगाम सेक्टर से बरामद किया गया. Also Read - Jammu and kashmir DDC Polls: जम्मू कश्मीर की 43 सीटों पर आज जिला विकास परिषद के चुनाव, सुरक्षा के कड़े इंतजाम, जानें ताजा अपडेट