नई दिल्ली: भारत पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) ने ताजमहल समेत 6 वैश्विक धरोहरों और बी श्रेणी के 11 स्मारकों का प्रवेश टिकट महंगा कर दिया है. टिकटों के नए रेट बुधवार से लागू कर दिए जाएंगे. ताजमहल देखने वाले घरेलू और विदेशी पर्यटकों को अब 10 रुपए और 100 रुपए अतिरिक्‍त देने होंगे. यानी ताज के दीदार के लिए घरेलू पर्यटकों को 50 रुपए और विदेशी सैलानियों को 1100 रुपए देने होंगे.1 अगस्‍त को संस्‍कृति मंत्रालय (मिनिस्‍ट्री ऑफ कल्‍चर) ने एक अधिसूचना जारी की थी. इसके अनुसार विदेशी पर्यटकों को ताजमहल के दीदार के लिए 1100 रुपए देने होंगे. इसमें 500 रुपए आगरा विकास प्राधिकरण का टोल टैक्‍स भी शामिल है. वहीं, घरेलू पर्यटकों को अब 40 रुपए की जगह 50 रुपए देने होंगे. सार्क देशों के पर्यटकों को 500 रुपए टोल टैक्‍स सहित अब 540 रुपए देने होंगे.

आर्थिक आधार पर सवर्णों और मुस्लिमों के लिए आरक्षण क्यों मांग रही हैं मायावती?

ढाई साल में ताजमहल की एंट्री फीस में दूसरी बार बढ़ोतरी की गई है. इससे पहले ताजमहल सहित अन्य स्‍मारकों की एंट्री फीस अप्रैल 2016 में बढ़ाई गई थी. ‘बी’ श्रेणी के स्‍मारकों की एंट्री फी भी भारतीय पर्यटकों के लिए 15 रुपए से बढ़ाकर 25 रुपए कर दी गई है. जबकि विदेशी पर्यटकों को अब 200 रुपए की जगह 300 रुपए देने होंगे.

यूपी के स्वास्थ्य मंत्री को पड़ा दिल का दौरा, लोहिया अस्‍पताल में हुई एंजियोप्लास्टी

मंत्रालय ने कैशलेस भुगतान के जरिए टिकट बुक करवाने पर डिस्‍काउंट की घोषणा की है. भारतीय पर्यटकों को जहां 5 रुपए का डिस्‍काउंट मिलेगा वहीं विदेशी पर्यटकों को ए और बी श्रेणी के स्‍मारकों के दीदार के लिए 50 रुपए प्रति टिकट का डिस्‍काउंट मिलेगा.

महाराष्ट्र: मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने केंद्र से की ज्योतिबा फुले और सावित्रीबाई को भारत रत्न देने की मांग

आगरा में ‘ए’ श्रेणी के स्‍मारकों में ताजमहल, फतेहपुर सिकरी और आगरा फोर्ट शामिल हैं. वहीं, पांच ‘बी’ श्रेणी के स्‍मारक है जिनमें अकबर का मकबरा सिकंदरा, मरियम का मकबरा सिकंदरा, राम बाग, इत्‍माद-उद-दौला और मेहताब बाग शामिल हैं. दिल्ली के सफदरजंग का मकबरा, कोटला फिरोजशाह, तुगलकाबाद का किला, पुराना किला, खान-ए-खाना का मकबरा, जंतर-मंतर के अलावा आगरा का मेहताब बाग, इत्माद-उद-दौला का मकबरा व सिकंदरा स्थित अकबर के मकबरा का टिकट कैशलेस में 20 रुपये और नकदी में 25 रुपये का मिलेगा.