नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद 29 अक्टूबर यानी मंगलवार को यूरोपीय संसद के 28 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल वहां का दौरा करेगा. सोमवार को यहां यूरोपीय संसद के सदस्यों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोबाल से मुलाकात की. मुलाकात में दोनों ही पक्षों के बीच कश्मीर मुद्दे को लेकर खुलकर बातचीत हुई.

बता दें कि धारा 370 हटने के बाद किसी विदेशी प्रतिनिधिमंडल का यह जम्मू -कश्मीर का पहला दौरा है. बता दें कि कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद यूरोपीय यूनियन ने भारत का समर्थन किया था. उस वक्त यूरोपीय यूनियन के सभी सांसदों ने एक सुर में पाकिस्तान की आलोचना की थी.

पिछले 11 सालों में यह पहली बार है जब यूरोपीय संसद ने कश्मीर मुद्दे पर खुलकर भारत का समर्थन किया है. धारा 370 हटने के बाद यह मुद्दा दुनियाभर में चर्चा का विषय बना हुआ है. इस बीच यूरोपीय सांसदों का यह दौरा काफी महत्वपूर्ण है. बता दें कि यूरोपियन प्रतिनिधिमंडल को अजित डोबाल ने भारत आने का न्योता दिया था. सांसदों के इस दौरे को एक यूरोपीय एनजीओ की ओर से आयोजित किया जा रहा है.