रायपुर (छत्तीसगढ़): भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यहां प्रदेश भाजपा कार्यालय में मंगलवार को आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में जेएनयू के छात्र शरजील इमाम की गिरफ्तारी पर बयान दिया. उन्होंने कहा कि शरजील इमाम देश को क्या तोड़ेगा, देशद्रोही ताकतों की सात पुश्तें भी असम को हिन्दुस्तान से अलग नहीं कर सकतीं. उन्होंने कहा कि दो दिन पहले ही शरजील इमाम नामक शख्स का देशद्रोही बयान वाला वीडियो वायरल हुआ. उसे आज दिल्ली क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है और अब उसे दिल्ली में जेल की हवा खानी पड़ेगी.

अमित शाह ने कहा, “दो वर्ष पहले जेएनयू में टुकड़े-टुकड़े गैंग ने देश के खिलाफ नारे लगाए. जब केस चलाने के लिए परमीशन देने की बारी आई तो दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने अनुमति ही नहीं दी. कान खोलकर सुन लें राहुल गांधी और केजरीवाल, जो भी देश तोड़ने की बात करेगा उसकी जगह सलाखों के पीछे ही होगी.”

शाह ने कहा, “भाजपा और केंद्र की मोदी सरकार की विचारधारा किसी के विरोध की नहीं है बल्कि देश की एकता, अखंडता और देश को प्यार करने की विचारधारा है. यदि राहुल गांधी और केजरीवाल को इतना भी नहीं पता है तो उन्हें फिर से राजनीति का क, ख, ग सीखना पड़ेगा.”

(इनपुट आईएएनएस)