नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी में सेंध लगाकर कांग्रेस खुद को मजबूत करने में जुट गई है. क्योंकि साल 2019 में लोकसभा का चुनाव होना है. ऐसे में बीजेपी को टक्कर देने के लिए राहुल गांधी और उनके नेता हर संभव कोशिश कर रहे हैं. वहीं बीजेपी के सामने सबसे बड़ी चुनौती अब यह है कि पार्टी के अंदर नाराज हो रहे नेताओं को कैसे संतुष्ट करें. बीजेपी पार्टी की सदस्यता व लोकसभा से इस्तीफा दे चुके नाना पटोले ने कांग्रेस दामन थाम लिया. नाना पटोले के कांग्रेस में शामिल होने पर पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनका स्वागत किया. नाना पटोले का कांग्रेस में जाना बीजेपी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. Also Read - Gujarat के Ex-Minister की पोती के इंगेजमेंट में हुआ ऐसा डांस, Video वायरल होने पर अब मांग ली माफी

आपको बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान से ही पटोले सीधे पीएम मोदी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस पर हमला कर रहे थे. वह इससे पहले भी किसानों के मुद्दे पर बीजेपी की नीति की आलोचना कर चुके हैं. किसानों के सवालों को लेकर वे कई बार अपनी ही सरकार के खिलाफ बोल चुके हैं. हाल ही में बीजेपी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने महाराष्ट्र के अकोला में सरकार के खिलाफ एक आन्दोलन किया था, पटोले उस आन्दोलन में भी शामिल हुए थे.

देश के पहले 'लेडीज स्पेशल' रेलवे स्टेशन में काम करती हैं सिर्फ महिलाएं, लिम्का बुक में मिली जगह

देश के पहले 'लेडीज स्पेशल' रेलवे स्टेशन में काम करती हैं सिर्फ महिलाएं, लिम्का बुक में मिली जगह

इस्तीफा देते वक्त उन्होंने यह भी कहा था कि देश की आर्थिक स्थिति खतरनाक स्तर पर है. पिछले साल की गई नोटबंदी के बाद करोड़ों लोगों की नौकरियां चली गईं और यहां तक कि निजी बैंक भी लोगों को नौकरी से निकाल रहे हैं. इसी के साथ वस्तु एवं सेवा कर ने लगभग छोटे उद्यमों को मार डाला है.

गौरतलब हो कि 2014 आम चुनाव में पटोले ने एनसीपी के दिग्गज नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल को हराया था. उन्होंने 1 लाख 38 हज़ार 818 वोटों के मार्जिन से ये चुनाव जीता था. चुनाव से पहले पटेल को दोबारा इस सीट पर जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है.