नई दिल्ली. पीएम नरेंद्र मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों और साढ़े चार साल के शासनकाल में लिए गए निर्णयों की आलोचना के कारण अक्सर चर्चा में रहने वाले भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank Of India) के पूर्व गवर्नर डॉ. रघुराम राजन (Raghuram Rajan) के एक ‘शिष्य’ को भारत सरकार ने अपना मुख्य आर्थिक सलाहकार (Chief economic advisor) नियुक्त किया है. जी हां, पिछले कुछ महीनों से खाली पड़े इस पद के लिए भारत सरकार ने प्रोफेसर कृष्णमूर्ति सुब्रहमण्यम (Dr. Krishnamurthy Subramanian) को चुना है, जो अब देश के नए मुख्य आर्थिक सलाहकार होंगे. वह इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस हैदराबाद में प्राध्यापक हैं. सरकार ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. उल्लेखनीय है कि इस साल की शुरुआत में अरविंद सुब्रहमणियन के करीब साढ़े चार साल बाद वित्त मंत्रालय को छोड़ने के बाद से मुख्य आर्थिक सलाहकार का पद खाली पड़ा था.

आईआईटी और आईआईएम जैसे संस्थानों से पढ़े प्रो. सुब्रहमण्यम का कार्यकाल तीन वर्ष का होगा. इस बाबत जारी एक सरकारी अधिसूचना के मुताबिक, ‘‘नियुक्ति मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने डॉ. कृष्णमूर्ति सुब्रहमण्यम की मुख्य आर्थिक सलाहकार के तौर पर नियुक्ति को मंजूरी प्रदान कर दी. वह आईएसबी हैदराबाद में सहायक प्राध्यापक हैं.’’ दरअसल, सुब्रहमण्यम के पास शिकागो बूथ स्कूल से पीएचडी की उपाधि है. आईएसबी की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक प्रो. सुब्रहमण्यम ने यह उपाधि पूर्व आरबीआई गवर्नर प्रो. रघुराम राजन का निर्देशन पाकर ही हासिल की है. हालांकि उन्होंने दो वरिष्ठ शिक्षाविदों के गाइडेंस में पीएचडी हासिल की है, जिनमें एक तो प्रो. राजन थे, जबकि दूसरे प्रो. लुइगी जिंगेल्स थे. यही नहीं, प्रो. सुब्रहमण्यम के अंदर पीएचडी करने वाले उनके कई विद्यार्थी आज की तारीख में एमआईटी, शिकागो बूथ स्कूल, बर्कले यूनिवर्सिटी, लंदन स्कूल ऑफ बिजनेस आदि में कार्यरत हैं.

बैंकिंग, कॉर्पोरेट गवर्नेंस और इकोनॉमिक पॉलिसी के क्षेत्र में दुनियाभर के जाने-माने विद्वानों में शामिल प्रो. सुब्रहमण्यम सिक्यूरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड यानी सेबी और आरबीआई में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं. वे सेबी की अल्टर्नेटिव इंवेस्टमेंट पॉलिसी के लिए बनी स्टैंडिंग कमेटी के मेंबर रह चुके हैं. इसके अलावा भी सेबी की कई अन्य कमेटियों में वे बतौर सलाहकार अपनी सेवाएं दे चुके हैं. कॉर्पोरेट पॉलिसी में उनकी दक्षता और विद्वत्ता को देखते हुए देश के बैंकिंग सेक्टर में भी उनकी सेवाएं ली जा चुकी हैं. वे बंधन बैंक, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बैंक मैनेजमेंट और आरबीआई एकेडमी में भी सलाहकार रह चुके हैं. वर्तमान में प्रो. सुब्रहमण्यम, आईबीएस में एसोसिएट प्रोफेसर फाइनांस हैं. इसके अलावा वे आईबीएस के सेंटर फॉर एनालिटिकल फाइनांस के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर भी हैं.

(इनपुट – एजेंसी)