नई दिल्लीः एग्जिट पोल की मानें तो त्रिपुरा में 25 साल बाद वाम मोर्चे की विदाई तय है. दो एग्जिट पोल में बीजेपी की सरकार बनती दिख रही है. एक्जिट पोल के अनुसार मेघालय और नगालैंड में भी बीजेपी अपनी स्थिति मजबूत करेगी. गौरतलब है कि त्रिपुरा में 18 फरवरी को 60 निर्वाचन क्षेत्रों में 59 क्षेत्रों में चुनाव हुए थे. चारीलम निर्वाचन क्षेत्र में एक उम्मीदवार के निधन के बाद 12 मार्च को चुनाव होंगे. Also Read - यूपी के मंत्री ने कहा- कांग्रेस ने भ्रम फैलाकर पाया वोट, पछता रहे हैं मध्यप्रदेश के लोग

सोमवार को त्रिपुरा के 6 पोलिंग बूथ पर दोबारा चुनाव कराए गए. इन पोलिंग बूथ पर सत्तारूढ़ पार्टी सीपीआई (एम) ने चुनाव आयोग पर निष्पक्ष चुनाव नहीं करने का आरोप लगाया था. इसके बाद इन क्षेत्रों में दोबारा चुनाव कराने की घोषणा करते हुए चुनाव पैनल ने कहा था कि यह देखा गया कि मतदाताओं की संख्या चार मतदान केंद्रों में मिले मतों की संख्या से मेल नहीं खा रही थी. जिसके बाद इन क्षेत्रों में दोबारा चुनाव कराए जाने का निर्णय लिया गया. Also Read - एमएनएफ के प्रमुख जोरमथंगा ने ली मिजोरम के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ

यह भी पढ़ेंः छिटपुट हिंसा के बीच नगालैंड में 75 फीसदी और मेघालय में 67 फीसदी मतदान Also Read - सवाल- केंद्र की राजनीति में जाने वाले हैं? 15 साल मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह का जवाब- 'यहीं हूं मैं'

त्रिपुरा
न्यूज एक्स ने पूर्वानुमान व्यक्त किया है कि त्रिपुरा में बीजेपी-आईपीएफटी गठबंधन को 35 से 45 के बीच सीटें मिल सकती हैं. वहीं एक्सिस माई इंडिया द्वारा मतदान के बाद कराये गए पोल में इस गठजोड़ को 44 से 50 सीटें मिलने की भविष्यवाणी की गई है. दोनों पोल में त्रिपुरा में वाम मोर्चा को क्रमश: 14 से 23 सीटें और 9 से 15 सीटें मिलने की संभावना व्यक्त की गई है. सीवोटर के एक्जिट पोल में त्रिपुरा में कांटे की टक्कर बताई गयी है और माकपा को 26 से 34 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है वहीं बीजेपी और उसके सहयोगी दलों को 24 से 32 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है.

मेघालय
न्यूज एक्स के एक्जिट पोल के नतीजों में नेशनल पीपुल पार्टी (एनपीपी) को 23-27 सीटें, बीजेपी को 8-12 सीटें और कांग्रेस को 13 से 17 सीटें मिलने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है. वहीं सीवोटर के अनुसार कांग्रेस को 13-19, एनपीपी को 17-23 और बीजेपी को 4-8 सीटें मिल सकती हैं.

नगालैंड
न्यूज एक्स के एक्जिट पोल के नतीजों के अनुसार नगालैंड में बीजेपी-एनडीपीपी को 27-32 सीटों के साथ एनपीएफ के सामने चुनौती पेश करते हुए बताया गया है जिसे 20 से 25 सीटें मिलने की संभावना है. कांग्रेस को महज 0-2 सीटें मिलने की बात कही गई है. सीवोटर के अनुसार नगालैंड में इस बार कांग्रेस महज 0 से चार सीटों के बीच सिमटकर सत्ता से बेदखल हो सकती है.