भरूच: गुजरात के भरूच जिले में दहेज स्थित एक रसायन फैक्टरी की भट्ठी में बुधवार को विस्फोट के बाद भीषण आग लग जाने से आठ कर्मियों की मौत हो गई और 50 अन्य झुलस गए. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है क्योंकि बचाव कार्य जारी है. Also Read - गुजरात में भारी बारिश; असम में बाढ़ की स्थिति में सुधार, कुछ ऐसा है बाकी जगहों का हाल

चूंकि प्रभावित फैक्टरी के पास मिथेनॉल और जाइलीन रसायनों की कंपनियां हैं इसलिए प्रशासन ने एहतियात के तौर पर लुवारा और लखीगाम गांवों के करीब 4800 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया है . भरूच से करीब 42 किलोमीटर दूर दहेज विशेष आर्थिक क्षेत्र-1 में स्थित यशस्वी रसायन नामक फैक्टरी में दोपहर को इस दुर्घटना के वक्त करीब 230 कर्मी थे. Also Read - गुजरात के कई जिलों में भारी बारिश, अगले तीन दिनों तक जारी रह सकता है कहर

दहेज मरीन थाने के निरीक्षक विपुल गागिया ने कहा,‘‘ दहेज विशेष आर्थिक क्षेत्र -1 में स्थित इस रसायन फैक्टरी की भट्ठी में विस्फोट होने से आठ कर्मियों की जान चली गयी जबकि करीब 50 अन्य घायल हो गये.’’ Also Read - कॉमन सर्विस सेंटर में काम करने वाली देश की पहली ट्रांसजेंडर ऑपरेटर बनी जोया खान, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद किया ट्वीट

उन्होंने बताया कि आग बुझ जाने के बाद छह जले हुए शव मिले जबकि दो कर्मियों ने भरूच के अस्पतालों में दम तोड़ दिया. उन्होंने कहा, ‘‘ 32 घायलों को भरूच और समीप के क्षेत्रों के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.’’

गागिया ने कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कुछ कर्मियों की हालत गंभीर है. स्थानीय अधिकारियों के अनुसार करीब 18-20 कर्मियों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्दी दी गयी.

अधिकारियों के अनुसार इस भीषण आग को नियंत्रण में करने में 11 दमकल गाड़ियों को छह घंटे लगे. इस बीच वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्यसभा सदस्य अहमद पटेल ने इस घटना के लिए राज्य की भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया.