नई दिल्ली: मणिपुर में सेना के जवानों पर उग्रवादी समूहों द्वारा छिपकर हमला किए जाने से तीन सेना के जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं वहीं और 6 जवान गंभीर रूप से घायल है. पूरी घटना इंफाल से करीब 95 कलोमीटर दूर चंदेल जिले की है. यहां असम राइफल्स के द्वारा उग्रवादियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा था. इसी बीच पहाड़ी इलाके में उग्रवादी समूहों ने छिपकर सेना के जवानों पर हमला बोला और इसमें तीन जवान शहीद हो गए. सभी घायल जवानों को इंफाल के सेना अस्पताल में भर्ती कराया गया है. Also Read - सुरक्षाबलों ने अरुणाचल प्रदेश में मार गिराए 6 उग्रवादी, 4 एके-47 समेत चीनी हथियार जब्‍त

बता दें कि भारत और म्यामांर की सीमा पर 4 असम राइफल्स के जवान उग्रवादियों के खिलाफ सर्च अभियान चला रहे थे. इसी दौरान यह घटना घटी है. खबरों की मानें तो स्थानीय उग्रवादी समूह पीपुल्स लिबरेशन आर्मी द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया है. इस घटना के बाद से भारत-म्यांमार सीमा पर सख्ती बढ़ा दी गई है. Also Read - Covid-19 in Mizoram Update: असम राइफल्स के चार जवान और NDRF के 10 कर्मी सहित 22 लोग कोरोना पॉजिटिव

गौरतलब है कि पिछले साल चंदेल जिले में ही असम राइफल्स के कैंप पर उग्रवादियों ने बम फेंका था. इस दौरान सेना के जवानों ने उग्रवादियों की गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया था. इस बीच मौका देखर उग्रवादी फरार हो गए. हालांकि इस दौरान किसी भी जवान को कोई नुकसान नहीं हुआ था. Also Read - हिंसक प्रदर्शन के बाद असम में सेना और असम राइफल्स की आठ टुकड़ियां तैनात