नई दिल्ली: देश में हवाई यात्रियों को जल्द ही चेहरा पहचान कर हवाई अड्डों पर प्रवेश करने की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी. केंद्र सरकार अपनी डिजि यात्रा पहल के तहत यह सुविधा देने की दिशा में काम कर रही है. डिजि यात्रा प्लेटफॉर्म फरवरी 2019 से शुरू होने की उम्मीद है.

नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि यह पहल ‘भविष्योन्मुखी’ है और इसे जल्द शुरू किया जाएगा. उन्होंने कहा कि यात्रियों के पास विकल्प होगा कि वह चेहरा पहचानने की सुविधा का उपयोग कर हवाई यात्रा करना चाहते हैं या नहीं. सरकार की डिजि यात्रा पहल का उद्देश्य हवाई यात्रा को ज्यादा से ज्यादा कागज रहित और बाधा रहित बनाना है.

जेट एयरवेज के वेतन भुगतान में देरी, 16 हजार से ज्यादा कर्मचारियों को अभी भी सैलरी का इंतजार

चेहरा पहचानने की सुविधा डिजिटल और बायोमीट्रिक आधारित होगी. इससे यात्री को हवाई अड्डों पर प्रवेश एवं अन्य आवश्यकताओं को पूरा करने में आसानी होगी. मंत्रालय के अनुसार डिजि यात्रा प्लेटफॉर्म फरवरी 2019 से शुरू होने की उम्मीद है. (इनपुट एजेंसी)