नई दिल्ली: रेलवे बोर्ड द्वारा जारी एक परिपत्र के अनुसार राजधानी, दुरंतो और सभी एयर कंडीशंड ट्रेनों के एसी 3-टायर की छह बर्थ को महिलाओं के लिए आरक्षित करने का फैसला किया गया है. यह आरक्षण वरिष्ठ नागरिकों, 45 वर्ष की आयु से अधिक की महिला यात्रियों और गर्भवती महिलाओं के लिए एसी 3-टायर में हर बोगी में आवंटित नीचे की चार बर्थ के संयुक्त आरक्षण के अतिरिक्त हैं.

रेलवे अभी हर मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों में महिला यात्रियों को उनकी उम्र, अकेले यात्रा करने या समूह में यात्रा करने के आधार पर स्लीपर क्लास की छह बर्थ का आरक्षण भी देता है. इसके अतिरिक्त गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेन के थर्ड एसी में हर ट्रेन में महिलाओं के लिए छह सीटें भी आरक्षित होती हैं.

कमल हासनः 6 साल की उम्र में फिल्मों से शुरू किया था करियर, अब राजनीति के लिए छोड़ेंगे सिनेमा

रेलवे ट्रेनों में महिलाओं को अलग-अलग कैटेगरी में आरक्षण पहले ही दे रहा है. हर ट्रेन में वरिष्ठ नागरिकों, 45 वर्ष की आयु से अधिक उम्र वाली महिलाओं और गर्भवती महिलाओं के लिए स्लीपर क्लास में हर बोगी में नीचे की छह बर्थ और एसी3 तथा एसी2 टायर क्लास में हर बोगी में नीचे की तीन बर्थ संयुक्त रूप से आरक्षित होती हैं.

उमा भारती ने कहा- नहीं लडूंगी 2019 लोकसभा चुनाव, अब गंगा मां की सेवा करनी है

परिपत्र में कहा गया है, ‘‘यह निर्णय लिया गया है सभी राजधानी/दुरंतो/ पूरी तरह एयर कंडीशंड ट्रेनों के थर्ड एसी में छह बर्थ महिला यात्रियों की उम्र, अकेले यात्रा करने या महिलाओं के साथ समूह में यात्रा करने के आधार पर उनके लिए आरक्षित होनी चाहिए.’’