नई दिल्ली। 2 हजार के नए नोट को लेकर सरकार और रिजर्व बैंक की तरफ से कई तरह के दावे किए गए हैं। लेकिन अभी जब नोटबंदी के फैसले को 3 महीने का ही वक्त हुआ है पड़ोसी देश पाकिस्तान में भारतीय 2 हजार रुपए के नकली नोट बनाए जाने की खबर सामने आई है। बीएसएफ और एनआईए ने हाल ही में नकली नोट बरामद किए थे। अंग्रेजी समाचार पत्र ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ को मिली जानकारी के मुताबिक भारत-बांग्लादेश बॉर्डर के जरिए 2000 के इन नकली नोटों को भारत भेजा गया है। Also Read - आज के समय में भारत के लिए क्यों जरूरी है 'क्वाड'? विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बताए इसके मायने

इसी महीने 8 फरवरी को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले से पुलिस ने अजीजुर रहमान (40) नाम के तस्कर को गिरफ्तार किया था, जिसके पास से 2000 रुपए के 40 नकली नोट मिले थे। सूत्रों ने बताया कि रहमान के साथ पूछताछ में जानकारी मिली की यह नोट कथित तौर पर पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद से पाकिस्तान में प्रिंट हुए थे, जिनकी तस्करी बांग्लादेश बॉर्डर के जरिए भारत में की गई। Also Read - भारत के हाथ 35 वर्षों बाद लगी सफलता, ILO की गवर्निंग बॉडी की मिली अध्यक्षता

सूत्रों ने जानकारी दी कि तस्करों ने हर एक 2000 के नोट के बदले 400-600 रुपए मांगे थे। सूत्रों के मुताबिक, जब्त किए गए नकली नोटों की जांच कराने पर पता लगा कि पाक में बने 2 हजार के नोटों में असली 2000 के नोट के 17 में से करीब 11 सिक्योरिटी फीचर नकल किए गए हैं। फ्रंट साइड ट्रांसपेरेंट एरिया, वाटरमार्क, अशोक स्तंभ, लेफ्ट साइड लिखा Rs 2000, आरबीआई गवर्नर के हस्ताक्षर के साथ लिखा वचन और देवनागरी में लिखी नोट की कीमत दी गई है। वहीं, पीछे की तरफ चंद्रयान, स्वच्छ भारत लोगो और नोट को प्रिंट करने का साल दिया गया है। हालांकि बरामद किए गए नोटों की पेपर और प्रिंट क्वालिटी उतनी अच्छी नहीं थी। Also Read - RAW प्रमुख से मिले नेपाल के प्रधामनंत्री केपी शर्मा ओली, शुरू हुआ 'विवाद'