सांबा, जम्मू-कश्मीर. पाकिस्तान के हमले में एक कैप्टन सहित 4 सैनिक शहीद हो गए. इन सभी के घर में गम और गुस्से का माहौल है. जम्मू कश्मीर के सांबा जिले के रहने वाले 42 वर्षीय हवलदार रोशन लाल भी इस हमले में शहीद हुए. रोशन लाल का परिवार शोक संतप्त है. रोशन जम्मू-कश्मीर में सांबा के रहने वाले थे. रोशन लाल के बेटे अभिनंदन ने अपने पिता की शहादत पर कहा कि मुझे उनपर गर्व है. बेटे ने पिता और मां की तस्वीर हाथ में लेकर मीडिया को दिखाया. अभिनंदन के बचपन की तस्वीर भी इस फोटो में है. 

पाकिस्तान के धोखे की कहानी... एंटी गाइडेड मिसाइल की रेंज बढ़ाकर किया था हमला

पाकिस्तान के धोखे की कहानी... एंटी गाइडेड मिसाइल की रेंज बढ़ाकर किया था हमला

अभिनंदन ने मीडिया से कहा कि पिता का राष्ट्र के लिए दिया बलिदान उन्हें गौरवान्वित किए हुए है. वहीं, इसी हमले में शहीद हुए कैप्टन कपिल कुंडू के दादा ने कहा कि अब पाकिस्तान से निर्णायक लड़ाई का वक्त है. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने सख्ती भरे लहजे में कहा कि हम पाकिस्तान को माफ नहीं करेंगे. इस घटना ने पाकिस्तान की बेवकूफी का प्रदर्शन किया है और उसे इसकी कीमत चुकानी ही होगी. वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ ने कहा है कि जवाब खुद सबकुछ कहेगा, मुझे कुछ कहने की जरूरत नहीं है. एक्शन अपनी बात खुद कहेगा.

वहीं, पाकिस्तान को जवाब देते हुए भारतीय सेना ने कड़ी कार्रवाई की है. भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पाक सेना के कई बंकर और चौकियां तबाह कर दी है. दूसरी तरफ, पाकिस्तान की तरफ से भारी गोलीबारी को देखते हुए राजौरी सेक्टर में स्कूलों को ऐहतियातन बंद रखा गया है. राजौरी के डीसी ने बताया कि हमने सेक्टर के सभी 84 स्कूलों को बंद रखा गया. उन्होंने बताया की इमर्जेंसी टीमें मुस्तैद रखी गई हैं. हमने रिलीफ कैंप्स भी बनाए हैं और इमर्जेंसी की स्थिति में लोगों को वहां शिफ्ट करेंगे. 

जन्मदिन से 6 दिन पहले शहादत, कैप्टन कुंडू के शब्द थे- 'जिंदगी बड़ी होनी चाहिए, लंबी नहीं'

जन्मदिन से 6 दिन पहले शहादत, कैप्टन कुंडू के शब्द थे- 'जिंदगी बड़ी होनी चाहिए, लंबी नहीं'

राजौरी के रहने वाले अरशद हुसैन ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि कल (रविवार) से ही फायरिंग हो रही है. अचानक होने वाली इस फायरिंग से लोग मुसीबत में आ जाते हैं. पड़ोस के गांव में शेलिंग की वजह से एक घर को नुकसान पहुंचा है, वहां भारी नुकसान हुआ है. एक और छात्रा, अमरीना कौसर ने बताया कि वह खोरीनार के मिडिल स्कूल में पढ़ती हैं और क्लास अटेंड करने आई थीं लेकिन स्कूल बंद होने की वजह से उन्हें वापस लौटना होगा.

बता दें कि जम्मू कश्मीर के राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा से लगते इलाकों में पाकिस्तान की ओर से की गयी जबरदस्त गोलीबारी और गोलाबारी में सेना के एक कैप्टन और 3 जवान शहीद हो गए जबकि कम से कम चार लोग घायल हो गए. कैप्टन कपिल कुंडू का 5 दिन बाद ही जन्मदिन था. पाकिस्तान वे गोलीबारी में एंटी गाइडेड मिसाइल का इस्तेमाल किया. ये मिसाइल अमूमन युद्ध के वक्त में ही इस्तेमाल की जाती है.