नोएडा. ख्याति प्राप्त मूर्ति शिल्पकार राम वी. सुतार का सपना है कि दिल्ली स्थित इंडिया गेट पर अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा बनाई जाए. उन्होंने इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अनुमति देने का निवेदन किया है. उम्र के 85वें पड़ाव पर पहुंचे सुतार की यह ख्वाहिश लंबे समय से है. राम सुतार को हाल ही में ‘‘टैगोर एवार्ड फॉर कल्चरल हारमोनी’’ से सम्मानित किया गया है.

उन्होंने कहा कि अयोध्या में सरयू नदी के तट पर भगवान श्रीराम की प्रतिमा बनाना भी उनका लक्ष्य है. यह प्रतिमा 251 मीटर (835) फुट ऊंची होगी. उन्होंने बताया कि भगवान श्रीराम की मूर्ति के डिजाइन आदि के लिए उत्तर प्रदेश सरकार से हरी झंडी मिल गई है. इस वर्ष इसका कार्य शुरू होने की संभावना है. गुजरात में नर्मदा नदी के किनारे सरदार बल्लभ भाई पटेल की विश्व की सबसे ऊंची 182 मीटर की प्रतिमा (Statue of Unity) बनाने के बाद रामसुतार न सिर्फ भारत बल्कि विश्व में सुर्खियों में रह चुके हैं. अमेरिका के प्रसिद्ध अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने राम सुतार के बारे में टिप्पणी करते हुए कहा है कि मानव इतिहास के बड़े मूर्तिकारों के बारे में विस्तृत अध्ययन उपलब्ध नहीं होने के कारण इनकी किसी से तुलना नहीं जा सकती लेकिन इतना जरूर कहा जा सकता है कि बीते 100 सालों में वह दुनिया के एक सबसे महान मूर्तिकार हैं.

मिलिए... दुनिया की सबसे ऊंची 'द स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के मूर्तिकार राम सुतार से

मिलिए... दुनिया की सबसे ऊंची 'द स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के मूर्तिकार राम सुतार से

आपको बता दें कि 2014 में सरदार पटेल की प्रतिमा के निर्माण का काम मिलने से काफी पहले से राम सुतार देश-दुनिया के जानेमाने मूर्तिकार थे. एक मूर्तिकार के रूप में करीब 70 सालों से काम कर रहे राम सुतार अब तक 8 हजार से अधिक मूर्तियां बना चुके हैं, जिसमें से अधिकतर कांसे की हैं. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी बनाने के बारे में अपने सपने के बारे में राम सुतार ने पिछले साल इस प्रतिमा के अनावरण के मौके पर कहा था कि उन्होंने न्यूयॉर्क में ‘स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी’ देखने के बाद दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा बनाने का ख्वाब देखा था. राम सुतार ने कहा था कि स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी को देखने से वह उससे काफी प्रभावित हुए थे. उसी समय से वह एक मूर्तिकार बनना चाहते थे. उनका सपना था कि वह एक ऐसा स्टैच्यू बनाएं जो फ्रेंच मूर्तिकार फ्रेडरिक ऑगस्त बारथोल्डी द्वारा बनाए गए 305 फीट की ‘स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी’ से बड़ा हो.

(इनपुट – एजेंसी)