जबलपुर: एमपी के जबलपुर जिले के पनागर क्षेत्र में एक किसान का दूसरे किसान ने मर्डर कर दिया. इस मर्डर की वजह टमाचर चोरी है. दरअसल एक किसान का खेत दूसरे किसान के खेत से लगे हुए हैं. दोनों किसानों ने अपने-अपने खेत में टमाटर की फसल लगा रखी थी, लेकिन एक किसान के खेत में फसल अच्‍छी नहीं थी. जिस किसान के खेत में अच्‍छी फसल थी, जब वह खेत से घर खाना खाने चला गया, तो पड़ोसी किसान दूसरे किसान के खेत से टमाटर की चोरी कर रहा था,  इसी दौरान अपने घर खाना खाने गया किसान आ गया. उसने पड़ोसी किसान को टमाटर चोरी करते हुए पकड़ लिया. इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया तो टमाटर चोरी करने वाले किसान ने अच्‍छे टमाटर की फसल पैदा करने वाले किसान की हत्‍या कर दी.

पुलिस के मुताबिक पनागर थाना क्षेत्र के एक गांव में मंगलवार की रात को टमाटर चोरी करते हुए पकड़े जाने पर एक किसान से दूसरे किसान की कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी. पुलिस ने आरोपी किसान को गिरफ्तार कर लिया है.

पनागर पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक रविन्द्र वर्मा ने बताया कि टगर महगंवा गांव के निवासी किसान चक्रेश पटेल (32) को किसान राजेन्द्र पटेल (40) की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. राजेन्द्र पटेल और चक्रेश पटेल के खेत आपस में लगे हुए हैं. दोनों ने अपने खेतों में टमाटर की फसल लगाई थी. राजेन्द्र की फसल अच्छी हुई थी और चक्रेश के खेत में टमाटर की फसल कुछ ठीक नहीं आई थी.

राजेन्द्र रात को खाना खाने के बाद अपने खेत देखने के लिए गया था, तब उसने वहां देखा कि चक्रेश उसके खेत से टमाटर चुरा रहा था. राजेन्द्र ने टमाटर चुराते हुए चक्रेश को पकड़ा और मोबाइल से अपने परिवार को इस बारे में बताया और कहा कि वह चक्रेश को लेकर आ रहा है. जब रात को काफी देर बाद भी राजेन्द्र वापस नहीं आया तो परिजन उसे तलाशते हुए खेत पर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि चक्रेश अपने खेत में काम कर रहा था.

वर्मा ने बताया कि राजेन्द्र के बारे में और टमाटर चोरी करने के संबंध में चक्रेश से पूछने पर उसने ऐसी किसी घटना से इनकार किया. इसके बाद परिजनों ने थाने पर आकर राजेन्द्र के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई. सुबह होने पर राजेन्द्र की लाश चक्रेश के खेत से लगे हुए खेत में मिली. उसके सिर के पिछले हिस्से में भारी धारदार हथियार से किए गए वार का घाव था.

पुलिस ने चक्रेश को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की तो उसने राजेन्द्र की हत्या वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया. उसने बताया कि खेत से टमाटर चोरी करते हुए राजेन्द्र ने उसे पकड़ लिया था. इसके बाद राजेन्द्र उसके साथ गाली-गलौज और मारपीट करने लगा. आवेश में आकर उसने राजेन्द्र के सिर के पिछले हिस्से में कुल्हाड़ी से हमला कर दिया. इसके कारण उसकी मौके पर मौत हो गई. इसके बाद उसने राजेन्द्र की लाश को पड़ोस के खेत में फेंक दिया. वर्मा ने बताया कि पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है. (इनपुट- एजेंसी)