नई दिल्लीः करीब 3500 पुलिसकर्मियों की तैनाती के बीच संसद भवन की ओर हजारों किसानों के मार्च से शुक्रवार को मध्य और लुटियन दिल्ली में यातायात व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई. हजारों किसान गुरुवार से ही रामलीला मैदान में रूके हुए थे और शुक्रवार की सुबह उन्होंने संसद भवन की ओर मार्च शुरू किया. किसान कर्ज माफी और फसलों की अधिक कीमतों की मांग सहित कई अन्य मुद्दों को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं.

जवाहरलाल नेहरू मार्ग, गुरू नानक आई हॉस्पिटल, महाराजा रंजीत सिंह फ्लाइओवर, बाराखम्बा चौक और जनपथ पर ट्रैफिक आज सुबह से प्रभावित है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एडवायजरी जारी कर राहगीरों को इन मार्गों से नहीं जाने की सलाह दी है. राहगीरों को परेशानियों का सामना न करना पड़े इसे सुनिश्चित करने के लिए करीब 1,000 यातायात पुलिसकर्मी रामलीला मैदान से संसद भवन के बीच तैनात किए गए हैं.

सेंट्रल दिल्ली सबसे ज्यादा प्रभावित
यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘ इस मार्च की वजह से कस्तूरबा गांधी मार्ग, फिरोजशाह रोड, जनपथ, मंदिर मार्ग, पंचकुइयां रोड, अशोक रोड, जय सिंह मार्ग और कनॉट प्लेस का इनर और आउटर सर्किल प्रभावित रहेगा. हमारे वरिष्ठ यातायात अधिकारी अन्य यातायात अधिकारियों के साथ इसका प्रबंधन कर रहे हैं.’

नागरिकों को यातायात से संबंधित अपडेट जानकारी के लिए दिल्ली यातायात पुलिस फेसबुक पेज, ट्विटर हैंडल, व्हाट्सऐप और ट्रैफिक हेल्पलाइन की मदद लेने की सलाह दी गई है. मध्य और नई दिल्ली पुलिस जिलों में 3,500 से ज्यादा कर्मी मार्च के मार्ग में तैनात हैं और विशेष व्यवस्था की गई है. वहीं उप-निरीक्षक रैंक तक के 850 पुलिसकर्मी मध्य जिले में तैनात किए गए हैं. आंध्र प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश सहित देश के अन्य हिस्सों से गुरुवार को किसान रामलीला मैदान पहुंचे.