नई दिल्ली: दिल्ली सीमा पर किसानों का विरोध प्रदर्शन अब भी जारी है, बीते कल किसानों द्वारा ट्रैक्टर मार्च निकाला गया था. इस दौरान किसानों ने शक्ति प्रदर्शन किया था. इसी कड़ी में सरकार और किसानों के बीच आज 8वें दौर की बातचीत होने वाली है. हालांकि पिछले 7 राउंड की बैठक में कुछ खास हल नहीं निकला लेकिन 2 मामलों में किसानों को राहत दे दी गई थी. Also Read - Kisan Andolan: कब खत्म होगा किसानों का आंदोलन? कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दिया यह जवाब...

किसानों की मांग है कि तीनों कृषि कानूनों को रद्द किया जाए और न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को कानूनी रूप दिया जाए. हालांकि सरकार ने अभी तक इन मुद्दों पर हामी नहीं बऱी है. सरकार और किसान दोनों ही अपने रवैये पर अड़े हुए हैं. किसानों का कहना है कि MSP से छेड़छाड़ पर किसानों को नुकसान होगा. Also Read - Kisan Andolan: मुंबई रैली में गरजे शरद पवार, पीएम मोदी से पूछा, क्या ये किसान पाकिस्तान के हैं?

बता दें कि 4 जनवरी को अंतिम दौर की वार्ता हुई थी, जिसमें किसान और सरकार के बीच गतिरोध को समाप्त नहीं किया जा सका था. सरकार का इस मामले पर कहना है कि उसने किसानों के लिए एक अलग योजना तैयार कर रखी है और किसान नेताओं का इसपर कहना है कि अगर उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता तो 26 जनवरी के दिन वे योजनाबद्ध तरीके से मार्च निकालेंगे. Also Read - Farmers Rally in Mumbai: Azad Maidan में हजारों किसानों का जमावड़ा, कुछ देर में शरद पवार करेंगे संबोधित