नई दिल्ली: केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों प्रदर्शन जारी है. लेकिन 26 जनवरी के दिन हुई हिंसा के बाद ऐसा लगने लगा था मानों किसान आंदोलन कमजोर पड़ चुका है. लेकिन एक वीडियो ने सारा खेल पलट दिया. दरअसल मीडिया से बातचीत के दौरान एक वीडियो में राकेश टिकैत को रोता दिखाया गया है. यह वीडियो इतनी तेजी से शेयर किया गया कि मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत का आयोजन किया गया.Also Read - Bulli Bai App Case: बुल्ली बाई एप के आरोपी सु्ल्ली डील एप में भी थे शामिल, मुंबई पुलिस ने कोर्ट को दी ये जानकारी

इस किसान महापंचायत के बाद यह फैसला लिया गया है कि किसान गाजीपुर बॉर्डर पहुंचेंगे. इस बाबत आज राष्ट्रीय राजमार्ग 24 (NH-24) को बंद कर दिया गया है. बता दें कि किसान महापंचायत के बाद से गाजीपुर बॉर्डर पर लगातार किसानों की संख्या बढ़ रही है. ऐसे में दिल्ली पुलिस द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग 24 को बंद कर दिया गया है. Also Read - गाजीपुर में IED मिलने का मामला: टेलीग्राम पर अलकायदा से जुड़े संगठन ने ली जिम्मेदारी, दिल्ली पुलिस जांच में जुटी

बता दें कि बीते दिनों यूपी पुलिस, दिल्ली पुलिस और RAF की टीम को दिल्ली की सीमाओं से हटाने के लिए भेजा गया था. ऐसा लग रहा था मानों उस दिन किसान आंदोलन खत्म हो जाएगा. लेकिन इसी बीच राकेश टिकैत का वीडियो वायरल हुआ और फिर देखते ही देखते राकेश टिकैत के समर्थन में गाजीपुर बॉर्डर पर हजारों लोग जमा होने लगे. Also Read - Traffic advisory Republic Day Parade 2022: गणतंत्र दिवस परेड रिहर्सल को लेकर ट्रैफिक एडवाइजरी जारी, दिल्ली के इन रास्तों पर आवाजाही रहेगी बंद