नई दिल्लीः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उद्योगपति राहुल बजाज द्वारा एक कार्यक्रम में दिए गए बयान पर करारा जवाब दिया है. वित्त मंत्री ने कहा कि आपकी ऐसी बातों से देश के हितों को चोट पहुंच सकती है. उन्होंने कहा कि अपनी धारणा फैलाने की जगह उत्तर पाने के और भी अधिक बेहतर तरीके है लेकिन इस तरह की बयान बाजी राष्ट्रीय हितों के खिलाफ है और इससे उन्हें चोट पहुंचेगी. Also Read - Covid-19 Fight: कोरोना से लड़ने के लिए केंद्र सरकार का एक और बड़ा कदम, गठित हुईं 11 टीमें

दरअसल उद्योगपति राहुल बजाज ने मुंबई में शनिवार को एक पुरस्कार समारोह में कहा था कि ‘‘डर का माहौल’’ है और लोग सरकार की आलोचना करने से डरते हैं और लोगों में यह यकीन नहीं है कि उनकी आलोचना को सरकार में सराहा जाएगा.’’ इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और अन्य लोग मौजूद थे. उनके इस बयान को लेकर विपक्ष ने भी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि ‘राहुल बजाज ने जो कहा, वह देशभर में, हर क्षेत्र की साझी भावना है.’’ Also Read - सरकार ने दी राहत, किसानों को 2000 रुपए की पहली किस्त अप्रैल के पहले हफ्ते में ही मिलेगी

सोमवार को निर्मला सीतारमण ने ट्वीट कर कहा है कि राहुल बजाज ने जिन मुद्दों को उठाया, उसका जवाब गृह मंत्री अमित शाह ने दिया. सवाल हों, आलोचनाएं हों सबको सुना जाता है, उनका जवाब दिया जाता है, उसे रेखांकित किया जाता है. वित्त मंत्री ने कहा कि अपनी धारणा फैलाने की जगह जवाब पाने के और भी बेहतर तरीके हैं. ऐसी बातों से राष्ट्रीय हित पर चोट लग सकती है.

राहुल बजाज ने सरकार की आलोचना करने के लिए उद्योगपतियों में विश्वास की कमी, सांसद प्रज्ञा ठाकुर के नाथूराम गोडसे को लेकर दिए बयान पर उचित कार्रवाई नहीं करने और मॉब लिंचिंग को लेकर चिंता जताई थी.