नई दिल्ली: सीबीआई (CBI) ने पंजाब में एक निजी कंपनी को दिए गए 5.62 करोड़ रुपए के टेंडर से जुड़े कामों में कथित फर्जीवाड़ा के लिए छह रेलवे कर्मियों के खिलाफ FIR दर्ज की है. सीबीआई के मुताबिक केके इंटरप्राइजेज को पंजाब के फिरोजपुर डिवीजन के तहत विभिन्न स्थानों पर एसीएसआर केबल की आपूर्ति सहित अलग अलग कार्यों के लिए कुल 17 टेंडर दिए गए थे.

असम सरकार का बड़ा फैसला, दो से ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों को अब नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी

छानबीन के दौरान सीबीआई ने पाया कि मई 2016 में 52,60,395 रुपए के टेंडर अगस्त 2016 तक परियोजना को पूरा करने के लिए मंगाए गए थे. हालांकि एसीएसआर 2016 तक उपलब्ध नहीं कराया गया.

सीबीआई ने आरोपी अधिकारियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420 (फर्जीवाड़ा), धारा 467 (महत्वपूर्ण दस्तावेजों के साथ जालसाजी), धारा 468 (धोखाधड़ी की नीयत से जालसाजी), धारा 471 (जाली दस्तावेज को असल दस्तावेज जैसा दिखाना) तथा भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.