बटाला (पंजाब): ये वीडियो है पंजाब के गुरदासपुर जिले के जिलाधिकारी विपुल उज्वल और विधायक सिमरनजीत सिंह बैंस के बीच हुई बहस का है. इस वायरल वीडियो में विधायक बैंस पंजाबी भाषा में आईएएस उज्वल से कहते हुए दिख रहे हैं, ”यह तुम्हारे बाप का ऑफिस नहीं है. यह लोगों का ऑफिस है. और तू जनता से कह रहा है कि बाहर जाओ.” यह वीडियो 45 सेकेंड का है और इसमें बैंस को पंजाबी में ही यह कहते देखा जा सकता है, ” पहले मेरे साथ बातचीत करो.” नाराज विधायक से अपमानित होने बाद जिलाधिकारी यह कहकर वहां से जाते दिख रहे हैं मैं आपसे बात नहीं करना चाहता हूं.”

विधायक जब जिलाधिकारी को ऐसे शब्द कह रहे थे, उस समय वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ओपिंदरजीत सिंह, सिविल सर्जन किशन चंद और पुलिस उपाधीक्षक बालकृष्ण सिंगला वहां मौजूद थे.

गुरदासपुर के जिलाधिकारी को सार्वजनिक रूप से अपशब्द कहने का वीडियो वायरल होने के बाद रविवार को निर्दलीय विधायक सिमरनजीत सिंह बैंस के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया. वीडियो में बैंस यहां के सिविल अस्पताल में पटाखा फैक्टरी धमाके के एक पीड़ित के शव की पहचान को लेकर भ्रम पैदा होने पर जिलाधिकारी विपुल उज्वल को लोगों के सामने अपशब्द कहते हुए नजर आ रहे हैं.

बता दें कि बटाला स्थित पटाखा फैक्टरी में गत बुधवार को हुए धमाके में 23 लोगों की मौत हो गई थी. इसके एक दिन बाद लोक इंसाफ पार्टी के प्रमुख और विधायक बैंस सिविल अस्पताल में उज्वल के साथ बदसलूकी की. पुलिस ने लुधियाना के विधायक और उनके 20 अज्ञात समर्थकों पर आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ओपिंदरजीत सिंह ने कहा कि मामला बटाला के उप प्रभागीय दंडाधिकारी (एसडीएम) बलराज सिंह की शिकायत पर दर्ज की गई है, जो उस समय घटनास्थल पर मौजूद थे. मुकदमा दर्ज होने की खबर पर बैंस ने आरोप लगाया कि इसके पीछे मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का हाथ है.