पणजी: गोवा पुलिस ने दक्षिण गोवा के मंगेशी मंदिर से जुड़े एक पुजारी के खिलाफ छेड़छाड़ के मामले में जांच शुरू कर दी है. पीड़िता ने इस मामले में प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज कराई है. उन्होंने कहा कि यह एफआईआर गुरुवार देर रात पोंडा पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई. एक पीड़िता ने एफआईआर में कहा, “वह (पुजारी) लॉकर क्षेत्र में आया और प्रदक्षिणा के बारे में पूछने के बहाने मेरे पास आकर उसने अपना हाथ मेरे कंधे पर रख दिया. उसके बाद उसने मुझे कसकर पकड़ लिया और मुझे चूमने का प्रयास किया.”
चलती ट्रेन में छेड़छाड़ करने वाले से इस तरह भिड़ गई महिला, सीट से नीचे गिराकर पीटा और खुद पिटी, देखते रहे लोग

अमेरिका में पढ़ रही मेडिसीन की एक छात्रा समेत दो युवतियों ने प्रसिद्ध मंगेशी मंदिर के पुजारी पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. दोनों शिकायतें मंदिर समिति के पास जून में दर्ज कराई गई थीं.

दक्षिण गोवा के पुलिस अधीक्षक अरविंद गवास ने शुक्रवार को मीडियाकर्मियों से कहा,”हम मामले की जांच कर रहे हैं. भारतीय दंड संहिता की धारा 354 के तहत पीड़ित ने एफआईआर दर्ज कराई.”अधिकारी ने कहा कि छेड़छाड़ के आरोपी पुजारी धनंजय भावे को औपचारिक रूप से समन जारी किया जाएगा.

एमपी के बीएसपी प्रदेश अध्यक्ष पर छेड़छाड़ का केस दर्ज, महिला को भेजी थीं अश्लील फोटो

जुलाई की शुरुआत में समिति ने सचिव अनिल कंकरे के जरिए अपने जवाब में कहा था कि जांच के दौरान प्रथम दृष्टया मामला साबित करने के लिए कोई भी भरोसेमंद सबूत उसके हाथ नहीं लगा. शिकायतकर्ता से आग्रह है कि वह अपनी शिकायत ‘उपयुक्त प्राधिकारी’ के पास ले जाए.’

मुंबई में आईपीएल मैच के दौरान महिला से छेड़छाड़ करने वाला शख्स गिरफ्तार