नई दिल्ली: नौ सेना के विमानवाहक पोत-आईएनएस विक्रमादित्य में लगी आग को बुझाने की कोशिश में भारतीय नौसेना का एक अधिकारी शहीद हो गया. हादसे के वक्त यह पोत कर्नाटक के करवार बंदरगाह में प्रवेश कर रहा था. सरकार ने यह जानकारी दी है.

नौसेना की ओर से जारी बयान के अनुसार, ‘लेफ्टिनेंट कमांडर डीएस चौहान आग बुझाने के प्रयासों की आगवानी कर रहे थे, जो धुएं और भभक की वजह से बेहोश हो गए.” बयान के अनुसार, “चौहान ने पोत के कॉम्बेट क्षमता को किसी भी प्रकार की क्षति पहुंचने से रोकने के लिए तत्काल कदम उठाए और इस दौरान वह बेहोश हो गए. उन्हें इलाज के लिए कारवार स्थित नौसेना के आईएनएचएस पतंजलि अस्ताल ले जाया गया.”

बयान के अनुसार, “अधिकारी को हालांकि बचाया नहीं जा सका.” घटना की परिस्थितियों की जांच के लिए बोर्ड ऑफ इंक्वायरी बिठाई गई है.