हरिद्वार (उत्तराखंड): फायरब्रांड हिंदू नेता साध्वी प्राची ने लखनऊ में हिंदू नेता कमलेश तिवारी की मौत के बाद अपनी जान को भी खतरे में बताया है. उन्होंने कहा कि तिवारी को जिहादियों (इस्लामिक आतंकवादियों) ने मारा. हरिद्वार में पत्रकारों से बातचीत में साध्वी ने रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री और उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश की सरकारों से खुद के लिए सुरक्षा की मांग की. Also Read - दावा: विमान दुर्घटना में नहीं हुई थी नेताजी सुभाषचंद्र बोस की मौत, डीएनए टेस्ट की मांग

Also Read - यूपी: तबलीगी जमात पर की भड़काऊ टिप्पणी, हिंदू महासभा की महासचिव और उनके पति अरेस्ट

कमलेश तिवारी हत्याकांड: योगी बोले- डर का माहौल पैदा करने वालों को कुचलकर रख देंगे Also Read - साध्वी प्राची बोलीं- कोरोना वायरस से भी खतरनाक हैं अरविंद केजरीवाल, इसलिए...

उन्होंने कहा कि आईएसआईएस से मुझे कई बार धमकियां मिल चुकी हैं. मैं ईश्वर में दृढ़ विश्वास रखती हूं और अब तक इस पर चर्चा नहीं की है. लेकिन कमलेश तिवारी की हत्या ने मुझे परेशान कर दिया है. उन्होंने आगे कहा कि कुछ दिनों पहले कुछ अज्ञात व्यक्ति मेरे आश्रम में आए थे और मेरे बारे में पूछताछ कर रहे थे. मुझे लगता है मुझे सुरक्षा की जरूरत है. साध्वी प्राची ने आरोप लगाया कि कांग्रेस द्वारा जिहादियों को भारत में संरक्षण दिया जा रहा है और इसकी पूरी जांच होनी चाहिए.

पहले सीएम को मिली धमकी अब पीएम मोदी के हेलीकॉप्टर की तस्वीर लेते पकड़े गए दो लोग, ATS ने उठाया यह कदम

कमलेश तिवारी की सुरक्षा क्यों हटाई गई, इसकी हो जांच: साध्वी

साध्वी ने कहा कि योगी सरकार को चाहिए कि वह इस बात की जांच करे कि कमलेश तिवारी की सुरक्षा क्यों हटाई गई और इसके लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई होनी चाहिए. गौरतलब है कि पूर्व हिंदू महासभा के नेता और हिंदू समाज पार्टी प्रमुख कमलेश तिवारी की लखनऊ में शुक्रवार को उनके घर स्थित कार्यलय में गला रेतने के बाद गोलियों से भून कर हत्या कर दी गई थी. (इनपुट एजेंसी)