ठाणे: ठाणे में 200 करोड़ रुपये के कॉरपोरेट खाते में सेंध लगाने की जांच कर रही एक महिला पुलिसकर्मी पर पालघर के विरार में शनिवार रात गोली चलाई गई. इस कॉरपोरेट हैकिंग मामले में सात लोगों को गिरफ्तार किया गया था. अधिकारी ने बताया कि सहायक पुलिस निरीक्षक सिधभाव जयभाये पर रात लगभग नौ बजे गोली चलाई गई. Also Read - पप्पा 'बाहर कोरोना है, न जाओ' कहकर रोने लगा बच्चा, पुलिस वाले का ये VIDEO देख भावुक हुए लोग

उन्होंने बताया कि घटनास्थल विरार फाटा पर पुलिस दल को भेजा गया. अधिकारी ने कहा, ‘‘शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक अधिकारी पालघर पुलिस की अपराध शाखा में कार्यरत हैं और सुरक्षित हैं. हम सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रहे हैं. गोली चलाने के बाद नकाबपोश लोग वहां से फरार हो गए.’’ उनके मुताबिक महिला अधिकारी ने सात लोगों द्वारा कॉरपोरेट खाते को हैक करने की साजिश का खुलासा किया था. आरोपी मुंबई के खाते से 200 करोड़ रुपये निकालने की कोशिश कर रहे थे. Also Read - कोरोना वायरस: मुंबई पुलिस ने ग्रुप में यात्रा पर रोक लगाने के लिए लागू की धारा 144

वहीं आपको बता दें कि यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को आगे की पूछताछ के लिए शनिवार को मुंबई स्थित प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के कार्यालय लाया गया है, जहां उनसे पूछताछ जारी है. ईडी ने शुक्रवार को यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर के मुंबई स्थित आवास पर छापे मारे थे. कपूर के खिलाफ धनशोधन (मनी लॉन्ड्रिंग) मामले की जांच चल रही है. Also Read - महाराष्ट्र कर रहा है महिलाओं के लिए नए कानून पर विचार, महिला पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ाएगी सरकार

केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों ने शुक्रवार रात मुंबई के समुद्र महल स्थित आवास पर कपूर से पूछताछ की थी. इसके बाद अब अपराह्न् करीब 12:30 बजे उन्हें ईडी कार्यालय ले जाया गया, जहां उनसे पूछताछ चल रही है. ईडी के अधिकारियों ने कहा कि कपूर से रात भर पूछताछ की गई. जांच से जुड़े ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (डीएचएफएल) को यस बैंक द्वारा दिए गए ऋणों के बारे में कपूर से पूछताछ की जा रही है.”