चंडीगढ़. बीएसएफ (BSF) में खराब खाने के मामले को सोशल मीडिया के जरिए वायरल करने वाले बर्खास्त कांस्टेबल तेज बहादुर यादव का 20 वर्षीय बेटा हरियाणा के रेवाड़ी जिले में मृत पाया गया. वह पिता के लाइसेंसी पिस्टल को उलट-पुलट रहा था. इसी दौरान गोली चलने से उसकी मौत हो गई. पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि मधु विहार इलाके में बृहस्पतिवार को अपने घर में बने मंदिर में रोहित यादव का शव बरामद हुआ. तेज बहादुर के बेटे के शरीर पर गोली के निशान पाए गए हैं.

उन्होंने बताया कि मृतक के पिता तेज बहादुर यादव ने जवानों को खराब गुणवत्ता वाला भोजन परोसे जाने की जानकारी वाला एक वीडियो पोस्ट किया था. इसके बाद 2017 में उन्हें सीमा सुरक्षा बल से बर्खास्त कर दिया गया था. वह उत्तर प्रदेश में चल रहे कुंभ मेले में गए हुए थे. उन्होंने बताया कि घटना के वक्त उसकी मां भी घर में नहीं थीं.

पुलिस ने बताया कि तेज बहादुर यादव के बयान के अनुसार उन्होंने अपनी लाइसेंसी पिस्तौल घर में छिपा कर रखी थी, लेकिन किसी तरह उनके बेटे के हाथ लग गई. उन्होंने पिता के बयान के हवाले से बताया कि हो सकते है कि रोहित जिस वक्त पिस्तौल उलट-पलट रहा था, उस वक्त गोली चल गई हो. तेज बहादुर शुक्रवार सुबह वापस लौटे हैं. रेवाड़ी मंडल कस्बा पुलिस थाने के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शव रक्तरंजित था और हाथ में पिता की लाइसेंसी पिस्तौल थी.

उन्होंने बताया कि मामले की जांच चल रही है. इससे पहले घटना की सूचना पर तेज बहादुर यादव के घर पहुंचने वाले पुलिस अधिकारी ने कहा कि पुलिस को रोहित के आत्महत्या करने की खबर मिली थी. जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो वहां कमरा बंद था.

(इनपुट – एजेंसी)