नई दिल्ली. दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री मदन लाल खुराना का शनिवार की रात निधन हो गया. वह दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती थे. बता दें कि इस साल अगस्ता में हार्ट अटैक से उनके बड़े बेटे विमल खुराना का निधन हो गया था. Also Read - Memory of Sheila Dixit: 2012 में पद छोड़ना चाहती थीं अस्वस्थ दीक्षित, निर्भया घटना के चलते बनी रहीं

बता दें कि मदन लाल खुराना बीजेपी के कद्दावर नेता रहे हैं. उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का करीबी माना जाता रहा है. वह राजस्थान के गवर्नर भी रह चुके हैं. वह राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के भी काफी करीब रहे हैं.

15 अक्टूबर 1936 को जन्म खुराना ने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से राजनीति की शुरुआत की थी. वह इलाबाद छात्रसंघ के महामंत्री रह चुके हैं. इसके बाद बीजेपी के छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़कर वर काम करने लगे.

जन संघ में भी वह महासचिव थे और इसके बाद बीजेपी की स्थापना के साथ वह उससे जुड़कर काम करने लगे. दिल्ली में उन्होंने इस तरह से बीजेपी के लिए काम किया था कि उन्हें दिल्ली का शेर कहा जाने लगा था. साल 1993 से लेकर 1996 तक वह दिल्ली के सीएम भी रहे. 14 जनवरी 2004 से 28 अक्टूबर 2004 तक राजस्थान के गवर्नर भी रहे.