नई दिल्‍लीी: मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री व बीजेपी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष शिवराजसिंह चौहान अपनी विनम्रता के लिए खूब चर्चित रहे हैं. अब जब उन्‍हें पार्टी की राष्‍ट्रीय भूमिका में जिम्‍मेदारी मिली है, तो वे उसे भी बखूबी और उसी निराले अंदाज में निभा रहे हैं. मुख्‍यमंत्री रहे चौहान कभी आदिवासियों के पैरों में जूते पहनाते हुए नजर आते थे तो कभी राज्‍य भर की बच्‍च‍ियों के लिए मामा कहलाने वाले चौहान एक बार फिर तरह दिखाई दिए. इस बार उन्‍हें पार्टी की सदस्‍यता कार्यक्रम की जिम्‍मेदारी मिली है, तो उसमें भी वह अपनी उसी स्‍टाइल से काम कर रहे हैं.

चौहान रविवार को बीजेपी मेम्‍बरशिप प्रोग्राम के लिए आंध प्रदेश के विजयवाड़ा में पहुंचे थे. यहां उन्‍होंने जनसंघ के सीनियर कार्यकर्ता श्रीनिवास राव जी के पैर धुले और उन्‍हें भाजपा की सदस्‍यता अभियान लेने का अनुरोध किया और देशभर में इस अभियान को सफल बनाने के लिए कहा.

आंध्र प्रदेश में चौहान ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और चंद्रबाबू नायडू और उनकी पार्टी टीडीपी पर भी खूब हमले किए. चौहान ने कहा कि महात्मा गांधी ने आज़ादी के बाद कांग्रेस पार्टी को खत्म करने की बात की थी. पं. नेहरू ने उस ज़माने में बापू की बात नहीं मानी थी. अब नकली गांधी ने असली गांधी की बात पूरी करने की ठानी है. राहुल गांधी कांग्रेस को खत्म करके ही दम लेंगे.

बीजेपी उपाध्‍यक्ष ने कहा, हमारी पार्टी किसी परिवार, किसी व्यक्ति, किसी जाति की पार्टी नहीं है. हमारी पार्टी सबका साथ, सबका विश्वास, सबका विश्वास के मूल मंत्र को आत्मसात करके आगे बढ़ रही है.

चौहान ने कहा कि टीडीपी छोड़कर जो चार साथी भाजपा में आए हैं, मैं उनका स्वागत करता हूं. वो भारतीय जनता पार्टी में देश बनाने और राष्ट्र की उन्नति के लिए आए हैं.

चौहान ने कहा कि यहां चंद्रबाबू ने भी गजब किया, प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे थे. कभी इस दरवाजे, कभी उस दरवाजे पर पहुंचे. हिन्दी में एक कहावत है कि चौबे जी छब्बे जी बनने गए, दूबे जी बनकर रह गए.