नई दिल्ली: नेशनल कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के पूर्व नेता तारिक अनवर नई दिल्ली में शनिवार को राहुल गांधी से मुलाकात के बाद कांग्रेस में शामिल हो गए. कटिहार से सांसद तारिक अनवर ने हाल ही में पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दिया था. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तारिक अनवर पार्टी अध्यक्ष शरद पवार द्वारा राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष में बयान देने से नाराज बताए जा रहे थे. इस्तीफे के बाद उन्होंने कहा था, मैंने पार्टी और लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. प्रधानमंत्री मोदी पूरी तरह राफेल सौदे में लिप्त हैं और वे अभी तक अपने को पाक साफ साबित करने में असफल रहे हैं.

देवेंद्र फडणवीस बोले- वन नेशन वन इलेक्शन में निकाय चुनावों को भी शामिल किया जाना चाहिए

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति द्वारा इस संबंध में दिए गए बयान से राफेल डील में घोटाले की पुष्टि होती है. उन्होंने कहा था कि ऐसे में पार्टी अध्यक्ष शरद पवार द्वारा प्रधानमंत्री के बचाव में आने से वे पूरी तरह असहमत हैं. एक चैनल को दिए इंटरव्यू में शरद पवार ने कहा था कि उन्हें नहीं लगता है कि लोगों को राफेल सौदे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा पर कोई शक है. विमान से जुड़ी तकनीकी जानकारियां साझा करने की विपक्ष की मांग में कोई तुक भी नहीं है. इसके बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट कर उन्हें धन्यवाद दिया था.

लखनऊ में आज ओपी राजभर की बड़ी रैली, लोकसभा चुनाव 2019 में NDA से रिश्‍ते पर होगा फैसला

पूर्व राकांपा नेता तारिक अनवर ने कहा था कि वर्तमान राजनीतिक स्थिति वर्ष 2004 जैसी ही है जब विपक्षी दलों में ‘एकता के अभाव की बात’ थी, लेकिन फिर भी उन्होंने लोकसभा चुनाव में भाजपा को पटखनी दे दी थी. भाजपा नीत राजग का मुकाबला करने के लिए विपक्षी दलों का गठबंधन बनाने के प्रयास जारी हैं.

‘पीएम मोदी ने मतदाताओं का भरोसा तोड़ा, हिंसा, लिंचिंग और गऊ-रक्षा से जुड़ी घटनाओं पर चुप रहे’

भाजपा के इस सवाल पर कि विपक्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार का फैसला करने में असमर्थ है, अनवर ने कहा था कि यह ‘एक गैर मुद्दा’ है. वर्तमान राजनीतिक स्थिति 2004 जैसी है जब एकता के अभाव की बात के बीच अटल बिहारी वाजपेयी के सामने प्रधानमंत्री पद का कोई उम्मीदवार न होने और शाइनिंग इंडिया अभियान के बावजूद लोगों ने विपक्षी दलों को वोट दिया और कांग्रेस नीत संप्रग की केंद्र में सरकार बनी.