पुणे: भारत की पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल को शनिवार को विदेशियों को दिए जाने वाले मेक्सिको के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘ऑर्डेन मेक्सिकाना डेल एग्वेला एज्टेका’ (ऑर्डर ऑफ एज्टेक ईगल) से सम्मानित किया गया. प्रतिभा पाटिल वर्ष 2007 से 2012 तक राष्ट्रपति के पद पर रहीं. उन्होंने भारत की पहली महिला राष्ट्रपति बनकर इतिहास रचा.

मंत्री नहीं बनाए जाने पर पूर्व ओलंपियन राज्यवर्धन ने तोड़ी चुप्पी, PM मोदी और राष्ट्रवाद पर कही ये बात

भारत में मेक्सिको के राजदूत मेल्बा प्रिआ ने पुणे के एमसीसीआईए भवन में आयोजित एक विशेष समारोह में पाटिल को सम्मानित किया. ये सम्मान पाने वाली 85 वर्षीय पाटिल दूसरी भारतीय प्रमुख बनीं हैं. इससे पहले दिवंगत राष्ट्रपति एस. राधाकृष्णन को यह सम्मान दिया गया था.

कांग्रेस संसदीय दल की नेता चुनी गईं सोनिया गांधी, लोकसभा में करेंगी यूपीए का प्रतिनिधित्व

विभिन्न श्रेणियों में इससे पहले भी कई भारतीयों को यह पुरस्कार दिया गया है, जिनमें नोबेल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन, प्रसिद्ध कलाकार सतीश गुजराल, उद्योगपति रघुपत सिंघानिया, मुंबई में मैक्सिको के महावाणिज्य दूत रज्जू श्रॉफ और अन्य शामिल हैं.