Punjab Polls 2022: पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात करेंगे. अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन के संभावित समाधान पर चर्चा करने के लिए गृह मंत्री से मिलेंगे. सिंह ने कहा कि वह कुछ कृषि विशेषज्ञों के साथ शाह से मिलेंगे. उन्होंने कहा, ‘कल मैं गृहमंत्री शाह से मिलने जा रहा हूं और मेरे साथ 25-30 लोग जायेंगे.’ उन्होंने यह भी कहा कि वह एक राजनीतिक दल शुरू करने की दहलीज पर हैं और जैसे ही चुनाव आयोग से नाम एवं निशान की मंजूरी मिल जाती है, वह दल की घोषणा कर देंगे.Also Read - पाकिस्तानी सेना ने इस क्षेत्र में 450 गोले दागे थे, लेकिन इस देवी मंदिर को खरोंच तक नहीं आई थी

सिंह ने कहा, ‘मैं समझता हूं कि मैं समाधान तलाशने में मदद कर सकता हूं, क्योंकि मैं पंजाब का मुख्यमंत्री रहा हूं एवं कृषक भी हूं.’ उन्होंने कहा कि वह किसानों के मुद्दों पर केंद्रीय गृहमंत्री से तीन बार मिल चुके हैं. उन्होंने कहा कि वैसे तो किसान आंदोलन के समाधान का पहले से तय फॉर्मूला नहीं हो सकता, लेकिन बातचीत से कुछ निकलकर सामने आयेगा, क्योंकि दोनों ही पक्ष – केंद्र सरकार एवं किसान – कृषि कानूनों से उत्पन्न संकट का हल चाहते हैं. Also Read - अमित शाह ने जवानों के साथ खाना खाया, कहा- देश की रक्षा करने वालों के लिए सरकार सब कुछ करने को तैयार

पूर्व मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि इस मुद्दे पर उन्होंने किसी किसान नेता के साथ बैठक नहीं की है. उन्होंने कहा कि मैने इस मामले में जानबूझकर दखलंदाजी नहीं की क्योंकि किसान नहीं चाहते हैं कि नेता इसमें शामिल हों. उन्होंने कहा कि किसान नेताओं की केंद्र के साथ चार बैठकें बेनतीजा रही हैं लेकिन अनौपचारिक वार्ता चल रही है. Also Read - सरकार से बात करने के लिए किसानों ने प्रतिनिधि मंडल बनाया, Rakesh Tikait ने कहा- आंदोलन खत्म नहीं होगा

सिंह कह चुके हैं कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ सीटों का जो भी संभवित समझौता होगा वह किसानों के हित में उनके मुद्दों के हल पर आधारित होगा.

(इनपुट: भाषा)