राष्ट्रीय राजधानी में खुदकुशी करने वाले पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल के बेटे ने बुधवार को कहा कि पुलिस थाने ले जाने से पहले उन्हें व उनके परिजनों को पीटा गया।

पूर्व सैनिक के बड़े बेटे जसवंत ने कहा कि पुलिस ने उन्हें, उनके छोटे भाई तथा बहनोई को पीटा। ग्रेवाल ने मंगलवार की शाम यहां खुदकुशी कर ली थी। यह भी पढ़ें: OROP पूर्व सैनिक खुदखुशी मामला: परिजनों से मिलने पहुंचे राहुल गांधी को पुलिस हिरासत में लिया

जसवंत को उनके भाई व संबंधी के साथ एक पुलिस थाने में हिरासत में रखा गया था। जसवंत ने एक वीडियो संदेश में कहा, “हमारे साथ बुरा सलूक किया गया। हमसे मारपीट और गालीगलौच किया गया। हम न्याय चाहते हैं।”

मृतक के बेटे ने कहा कि उन्होंने एक सैनिक के परिजन के साथ पुलिस द्वारा इस तरह के आचरण के बारे में कभी नहीं सुना था।

ग्रेवाल (70) ने मंगलवार को यहां एक पार्क में जहर खाकर खुदकुशी कर ली थी। बताया जाता है कि उन्होंने वन रैंक वन पेंशन (ओआरओपी) लागू करने की मांग को लेकर खुदकुशी की।

पुलिस ने इस मामले में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया तथा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को भी हिरासत में लिया था। राहुल को हालांकि 70 मिनट बाद छोड़ दिया गया।