नागपुरः कोरोना वायरस से संक्रमित होने के संदेह में यहां एक सरकारी अस्पताल में भर्ती चार लोग अधिकारियों को सूचित किए बगैर घर लौट गए. पुलिस ने शनिवार को बताया कि यह घटना शुक्रवार की देर रात की है. पुलिस के अनुसार, बाद में चारों लोगों का पता लगा लिया गया और उन्हें अस्पताल लौटने के लिए कहा गया. उनकी जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है.Also Read - दिल्ली में Corona ने बढ़ाई टेंशन, संक्रमितों में वृद्धि, आज ही Omicron Variant केस भी मिला

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘दो महिलाओं समेत चार लोग कोरोना वायरस संक्रमण होने के संदेह में अपने खून का नमूना देने के लिए शुक्रवार सुबह इंदिरा गांधी सरकारी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल आए थे. उन्हें अलगाव वार्ड में रखा गया था. हालांकि रात को वे अधिकारियों को जानकारी दिए बगैर अस्पताल से चले गए.’’ Also Read - Omicron Latest Update: कोरोना इस बार लग रहा ज्यादा खतरनाक, 5 साल से छोटे बच्चों को भी बना रहा शिकार, रहें अलर्ट

Also Read - Omicron: कर्नाटक सरकार सख्त, ओमिक्रोन से संक्रमित अफ्रीकी शख्स को निगेटिव रिपोर्ट देने वाली लैब की होगी जांच

उन्होंने कहा, ‘‘हमने बाद में उनका पता लगा लिया और फोन पर उनसे संपर्क किया. उन्हें अस्पताल लौटने के लिए कहा गया है. उन्होंने हमें बताया कि वे जांच नतीजे मिलने में देरी और अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के साथ शौचालय का इस्तेमाल करने से नाराज थे.’’ अभी तक नागपुर में कोरोना वायरस से तीन लोग संक्रमित पाए गए हैं.