लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में रविवार को अंतरराष्‍ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन (Ranjeet Bachchan) की हत्या के बाद लापरवाही बरतने के आरोप में 4 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है. रंजीत बच्चन की हत्या मामले में कार्रवाई करते हुए कमिश्नर ऑफ़ पुलिस सुजीत पांडेय के निर्देश पर प्रशासन ने चौक पुलिस के चौकी इंचार्ज सहित कुल 4 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है. Also Read - कांग्रेस में बवाल के बाद उठे सवाल- क्या गोडसे समर्थक पर है कमलनाथ का हाथ?

बता दें कि रविवार की सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले अंतरराष्ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन की बदमाशों ने हजरतगंज इलाके में 32 बोर के पिस्तौल से गोली मारकर हत्या कर दी गई, इसके साथ ही बदमाशों ने उनका और उनके मौसेरे भाई का मोबाइल भी छीन लिया, जिसे ध्यान में रखते हुए पुलिस मोबाइल स्नैचिंग थ्योरी पर भी काम कर रही है. पुलिस आस-पास के इलाके के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है और मामले की जांच कर रही है. Also Read - मध्य प्रदेश कांग्रेस में बढ़ा विवाद, कमलनाथ के खिलाफ बोलने वाले नेता पार्टी से निष्कासित

लखनऊः अंतरराष्ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ चलाई गोली, मौके पर हुई मौत, पुलिस जांच में जुटी Also Read - महाशिवरात्रि के अवसर पर ताजमहल में शिव की पूजा, पुलिस हिरासत में हिंदू महासभा के पदाधिकारी

रंजीत बच्चन हत्याकांड मामले में यह भी जानकारी सामने आई है कि रंजीत बच्चन का पारिवारिक विवाद भी था, जिस मामले में पहले ही गोरखपुर (Gorakhpur) में एक एफआईआर भी दर्ज है. वहीं जिस पिस्तौल से रंजीत बच्चन को गोली मारी गई है वह बिहार (Bihar) के मुंगेर जिले (Munger) में बनी बताई जा रही है. मामले की गंभीरता को देखते हुए लखनऊ पुलिस ने कुल 8 टीमें गठित की हैं और हत्याकांड की जांच शुरू कर दी है.