नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को भारतयी सेना और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में चार आतंकवादी मारे गए. सुरक्षाबलों को जानकारी मिली थी कि गुदर इलाके में कुछ आतंकी छिपे है जिसकी बाद भारतीय सेना की तरफ से इन्हें पकड़ने के लिए ऑपरेशन चलाया गया. Also Read - कोविड मरीजों को दिया जा रहा निशुल्क 'कोरोना किट', पाने का है यह आसान तरीका; सिर्फ इस नंबर पर करें कॉल और...

इस मुठभेड़ में जहां चार आतंकी मारे गए वहीं भारतीय सेना का एक मेजर घायल हो गया है. सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच कई घंटों तक गोलीबारी हुई. पहले भारतीय जवानों ने दो आतंकियों को मारा और इसके बाद छिपे दो आतंकियों को तलाशने के लिए पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया जिसके बाद दो और आतंकी मारे गए. Also Read - देश के लिए अच्छी खबर, 19 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कम हो रहे कोरोना केस

एक पुलिस अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि अभी मारे गए किसी भी आतंकी की पहचान नहीं हो सकी है और न ही किसी आतंकी संगठन ने इनकी जिम्मेदारी ली है. अधिकारियों का कहना है कि इस बीच आतंकियों ने अपनी गतिविधियां तेज कर दी हैं लेकिन सेना लगातार उनकी कोशिशों को नाकम बनाने में सफल रही है.

आपको बता दें कि जहां एक ओर पूरा विश्व कोरोना वायरस से लड़ रहा है वहीं पाकिस्तान की ओर से लगातार आतंकी गतिविधियों को अंजाम दिया जा रहा है. हाल ही में जम्मू कश्मीर के डीजीपी ने कहा था कि पाकिस्तानी इलाके में बहुत से आतंकी कैंप एक्टिव हो गए हैं और वे कोरोना संकट का सहारा लेकर भारत में घुसपैठ करने की कोशिश में लगे हुए हैं. इस बात की भी आशंका जताई जा रही है कि पाकिस्तान की तरफ से भारत में कोरोना संक्रमित आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश है ताकि जम्मू कश्मीर में इस महामारी को फैलाया जा सके.