नई दिल्ली : देशव्यापी बंद के दौरान मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी योजना पीएम-किसान के करीब 8.89 करोड़ लाभार्थी किसान परिवारों के बैंकखातों में सरकार ने अब तक 17,793 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए हैं. केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के तहत आने वाले कृषि सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग ने यह जानकारी सोमवार को दी. Also Read - Lockdown 5.0: एक बार फिर बढ़ने जा रही है लॉकडाउन की अवधि! क्या करें, क्या न करें, जानें सबकुछ

कोरोनावायरस के संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर देशभर में पूर्ण तालाबंदी है, लेकिन केंद्र सरकार ने खेती किसानी से संबंधित कार्यों को इस दौरान चालू रखने की छूट दी है. साथ ही सरकार कृषि से संबंधित योजनाओं का लाभ भी किसानों को पहुंचा रही है. इसी के तहत 24 मार्च से लेकर अब तक पीएम किसान योजना के 8.89 करोड़ लाभार्थियों के खातों में 17,793 करोड़ रुपये भेजे जा चुके हैं. Also Read - भाजपा हिमाचल स्वास्थ्य विभाग में 'भ्रष्टाचार के पाप' से छुटकारा नहीं पा सकती : कांग्रेस

विभाग ने बताया कि पीएम गरीब कल्याण योजना अन्न योजना के तहत घोषित दाल वितरण के लिए करीब 1,07,077.85 टन दाल राज्यों को भेजी गई है. केंद्र सरकार की एजेंसी नैफेड दाल की खरीद व भंडारण करती है जो कृषि सहाकारिता एवं किसान कल्याण विभाग के अंतर्गत आती है.

विभाग ने बताया कि इस योजना के तहत देशभर में 19.50 करोड़ परिवारों को दाल वितरण किया जाएगा. कोरोनावायरस के संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने देशव्यापी बंद लागू करने के बाद इससे मिल रही आर्थिक चुनौतियों का सामना करने के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज का ऐलान किया.

इसके तहत प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के जरिए देश के प्रत्येक राशनकार्ड धारक परिवार को हर महीने एक किलो दाल और पीडीएस के प्रत्येक लाभार्थी को पांच किलो अनाज अगले तीन महीने तक देने का ऐलान किया है.